रानिल विक्रमसिंघे होंगे श्रीलंका के नए राष्ट्रपति, सियासी और दिवालिया संकट के भंवरजाल में फंसे देश की संभालेंगे कमान

रानिल विक्रमसिंघे होंगे श्रीलंका के नए राष्ट्रपति, सियासी और दिवालिया संकट के भंवरजाल में फंसे देश की संभालेंगे कमान

DESK. सियासी संकट से जूझते श्रीलंका में रानिल विक्रमसिंघे ने राष्ट्रपति चुनाव जीत लिया है. वे अब देश के नए राष्ट्रपति हो सकते हैं. श्रीलंका में आज राष्ट्रपति चुनाव  हुआ. इसमें मुख्य मुकाबला रानिल विक्रमसिंघे और विपक्ष की कमान संभालने वाले सांसद डल्लास अलाहोप्पेरुमा के बीच रही. 225 सदस्यीय संसद में रानिल विक्रमसिंघे को 134 वोट मिले हैं. 

हालांकि कोलंबो में राष्ट्रपति सचिवालय में कार्यवाहक राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे के खिलाफ जनता का मौन विरोध प्रदर्शन चल रहा है.  विक्रमसिंघे की कार्यशैली से जनता के एक बड़े वर्ग के नाराज होने की बात कही जा रही है. इसके पहले भी विक्रमसिंघे देश में प्रमुख जिम्मेदारी संभाल चुके हैं. उनके पूर्व के कार्यकाल के दौरान कामकाज के तरीकों को लेकर जनता के बीच कई प्रकार की नकारात्मक बातें रही हैं. इसी कारण बुधवार को उनके खिलाफ मौन विरोध प्रदर्शन भी किया जा रहा है. 

इस सबके बीच विपक्ष के नेता साजिथ प्रेमदासा ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी अपील की है कि देश का नया राष्ट्रपति कोई भी क्यों न बने लेकिन भारत जिस तरह से लगातार इस मुश्किल वक्त में श्रीलंका की मदद कर रहा है वह आगे भी जारी रखे.

दिवालिया हो चुके श्रीलंका के नए राष्ट्रपति बनने वाले रानिल के लिए कई प्रकार की चुनौतियाँ भी हैं.


Find Us on Facebook

Trending News