मां-बाप के बिहेव परेशान है रेप पीड़िता नाबालिग, शिक्षक को बता खौफनाक कदम उठाने को मजबूर

मां-बाप के बिहेव परेशान है रेप पीड़िता नाबालिग, शिक्षक को बता खौफनाक कदम उठाने को मजबूर

DESK. रेप के बाद दुष्कर्म पीड़िता को समाज और उनके घर में किस तरह देखा जाता है, इसका पता राजस्थान का एक मामला से चलता है. प्रदेश के झुंझुनू जिले में अपने मां-बाप के ताने से एक रेप पीड़िता नाबालिग इस तरह परेशान है कि उन्हें आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ रहा है. पीड़िता ने अपने शिक्षक को लिखे पत्र में कहा है कि मम्मी-पापा मुझे रोज दिन मारते पीटते हैं और परेशान कर रहे हैं. वह कहते हैं 'तू मर जा. इसलिए अब मैं जीना नहीं चाहती हूं... मरने जा रही हूं.

झुंझुनू में 11 साल की छात्रा से स्कूल में रेप के मामले में चौंकाने वाली बात सामने आई है. पीड़ित सातवीं कक्षा की छात्रा ने स्कूल के एक टीचर को पत्र सौंपा है. पत्र में लिखा है- मैं अब जीना नहीं चाहती, मैं मरने जा रही है. मैं पूरी तरह से परेशान हो चुकी हूं. मेरे मम्मी पापा मुझे हर रोज मारते हैं. कहते हैं तू मर जा। आत्महत्या करने के लिए कहते हैं. पत्र मिलने के बाद तुरंत जिला शिक्षाधिकारी को सूचना दी गई. मामले की जानकारी मिलने पर चाइल्ड हेल्पलाइन के सदस्य छात्रा से मिले. इसके बाद छात्रा को बाल संरक्षण समिति को सौंपा गया. माता-पिता से भी बात की गई है, लेकिन अभी स्पष्ट पूरा मामला स्पष्ट नहीं हो पाया है.

बाल संरक्षण समिति ने छात्रा को अस्पताल के सखी सेन्टर में रखा गया है. बच्ची की काउंसलिंग की जा रही है. इस संबंध में मुख्य शिक्षा अधिकारी राम काला ने सिंघाना थाना में रिपोर्ट दी है. रिपोर्ट के आधार पर मामला दर्ज किया गया है. छात्रा के माता पिता के खिलाफ मारपीट करने और उसे प्रताड़ित करने की रिपोर्ट दी है. 5 अक्टूबर को सिंघाना थाना इलाके के एक सरकारी स्कूल के हेडमास्टर ने छात्रा से स्कूल में रेप किया था. किसी के बताने पर जान से मारने की धमकी थी.

बच्ची ने अपनी स्कूल की किताब में बाल संरक्षण समिति के नम्बर देख उन्होंने फोन कर रेप के बारे में बताया. इसके बाद बाल संरक्षण समिति के सदस्यों ने बच्ची से घर जाकर मुलाकात की थी. बच्ची के बयानों के आधार पर सिंघाना थाने में मामला दर्ज किया. आरोपी हैडमास्टर को केशव यादव को गिरफ्तार किया है. बच्ची को डराने धमकाने और आरोपी का सहयोग करने पर स्कूल की दो अध्यापिकाओं के खिलाफ भी मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद शिक्षा विभाग ने तीनों को सस्पैंड कर दिया था.

Find Us on Facebook

Trending News