अग्नि परीक्षा में पास होंगे RCP सिंह? UP में चुनावी बिगुल बज गया...BJP से सीटों को लेकर अब तक नहीं करा सके समझौता

अग्नि परीक्षा में पास होंगे RCP सिंह? UP में चुनावी बिगुल बज गया...BJP से सीटों को लेकर अब तक नहीं करा सके समझौता

PATNA: उत्तरप्रदेश चुनाव का बिगुल बज गया है। लेकिन सहयोगी जेडीयू का बीजेपी के साथ सीटों पर समझौता अब तक नहीं हो सका है। क्या बीजेपी नीतीश कुमार की पार्टी को गच्चा देगी? क्या आरसीपी सिंह अग्नि परीक्षा में पास होंगे? अब तक कोई रिजल्ट सामने नहीं आने से पार्टी के अंदर ही यह सवाल उठ रहा है। JDU नेतृत्व ने केंद्रीय मंत्री आरसीपी के कंधे पर ही यूपी चुनाव में बीजेपी से बातचीत का जिम्मा दे रखा है। चुनाव का ऐलान हो गया फिर भी सीटों के बंटवारे पर बातचीत जहां थी वहीं रूकी है। यानी उत्तरप्रदेश चुनाव में बीजेपी एनडीए की सबसे बड़ी सहयोगी जेडीयू को भाव देते नहीं दिख रही। 

बीजेपी ने अब तक नहीं दिया भाव

JDU यूपी में चुनाव लड़ने को लेकर काफी पहले से तैयारी कर रही थी। पार्टी में यह तय हुआ था कि सहयोगी दल बीजेपी के साथ गठबंधन बातचीत की जायेगी। अगर गठबंधन पर बात बन गई तो साथ मिलकर लड़ेंगे। कुछ समय पहले केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने कहा था कि बीजेपी नेतृत्व से बात हो गई है और मिलकर चुनाव लड़ेंगे। लेकिन जेडीयू के खाते में कितनी सीटें जायेंगी इस पर कहा था कि यह कोई बड़ा इश्यू नहीं है। चुनाव की घोषणा के बाद सब कुछ साफ जायेगा। चुनावी बिगुल बजने के बाद भी दोनों दलों के बीच सीटों पर बातचीत का गाड़ी आगे नहीं बढ़ सकी है। बीजेपी की तरफ से अब तक कोई सकारात्मक और संतोषजनक जवाब नहीं आया है।

एक-दो दिन और इंतजार करेगा जेडीयू 

जेडीयू नेतृत्व ने केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह को यूपी चुनाव में भाजपा से समझौता का जिम्मा दिया है। हालांकि वे दो दिन पहले तक कनर्नाटक के दौरे पर थे। जानकार बताते हैं कि अभी तक बीजेपी नेतृत्व से सीटों पर कोई सार्थक बातचीत नहीं हुई है। ऐसे में अब जेडीयू के राष्ट्रीय प्रधान सचिव केसी त्यागी ने साफ कर दिया है कि यदि भाजपा एक-दो दिनों में कोई संवाद नहीं करेगी तो निर्णय लिया जाएगा। केसी त्यागी ने कहा कि भाजपा के शीर्ष नेताओं से वार्ता की जिम्मेदारी केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह की है।बीजेपी नेतृत्व को यह भी बता दिया है कि हम चुनाव लड़ना चाहते हैं। केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने भी गृहमंत्री अमित शाह से, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से, राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और धर्मेंद्र प्रधान से बातचीत की है। अब तक तक कोई सकारात्मक जवाब नहीं आया है। 

बात नहीं बनी तो 51 सीटों पर लडेंगे चुनाव

जेडीयू महासिचव केसी त्यागी ने आगे कहा कि अभी हम इंतजार कर रहे हैं। जेडीयू बीजेपी की पुरानी सहयोगी है। हम यूपी में सिर्फ बीजेपी से गठबंधन करेंगे। अगर 1-2 दिनों में बातचीत नहीं बनी तो वहां 51 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। 51 सीटों पर हमारी तैयारी है और अपने दम पर चुनावी मैदान में उतरेंगे। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने यूपी चुनाव में किसी भी सहयोगी दल से सीटों के बंटवारे को लेकर सकारात्मक जवाब नहीं दिया है।  

बता दें कि यूपी चुनाव को लेकर JDU की तरफ से बात करने के लिए बीजेपी के करीबी व मोदी कैबिनेट में शामिल केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह को अधिकृत किया गया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने साफ कहा था कि भाजपा नेतृत्व से आरसीपी सिंह का संपर्क बेहतर है, तो वही यूपी चुनाव को लेकर भाजपा से बात करेंगे। लेकिन आरसीपी सिंह की बातचीत की गाड़ी दो कदम भी आगे नहीं बढ़ी है। ऐसे में यह चर्चा तेज है कि अगर यूपी में सम्मानजनक सीटें नहीं मिली तो सारा ठीकरा आरसीपी सिंह पर फोड़ा जायेगा।   

Find Us on Facebook

Trending News