बिहार में बना रिकार्डः अमित शाह की हुंकार...पांच किमी तक मुंड ही मुंड तिरंगे ही तिरंगे दिखाई पड़े

बिहार में बना रिकार्डः अमित शाह की हुंकार...पांच किमी तक मुंड ही मुंड तिरंगे ही तिरंगे दिखाई पड़े

पटनाः स्वतन्त्रता संग्राम के महानायक बाबू वीर कुंवर सिंह के विजयोत्सव पर जगदीशपुर में बड़ा कार्यक्रम हुआ। विजयोत्सव को एतिहासिक बनाने के लिए भाजपा ने पूरी ताकत लगाई थी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह विजयोत्सव कार्यक्रम में शामिल हुए। विजयोत्सव में एक साथ 75 हजार तिरंगा झंड़ा लहराकर विश्व रिकार्ड बनाने में भाजपा ने पूरी इनर्जी लगाई थी। अमित शाह जब मंच पर पहुंचे तो भाजपा कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया। गृह मंत्री ने तिरंगा झंड़ा फहराकर कार्यक्रम की शुरूआत की। इसके बाद उन्होंने बाबू कुंवर सिंह के वंशज को शॉल उठाकर उनका अभिनंदन किया। विजयोत्सव कार्यक्रम में भारत ने एक साथ 77790 झंड़ा फहराकर विश्व रिकार्ड बना दिया। पहले यह रिकार्ड पाकिस्तान के नाम था। 

5 मिनट तक लहराया तिरंगा

विजयोत्सव कार्यक्रम में एक साथ पचहत्तर हजार तिरंगा झंड़ा फहराने का विश्व रिकार्ड बनाने की तैयारी थी। इसको लेकर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड की टीम आई थी। कार्यक्रम में मौजूद सभी लोगों ने पांच मिनट तक एक साथ तिरंगा लहराया। मंच पर मौजूद गृह मंत्री अमित शाह खुद इसका नेतृत्व कर रहे थे। सभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि कार्यक्रम के लिए जब हमसे समय लिया तब मेरे मन में यह कल्पना नहीं थी। हमने हेलिकॉप्टर तक नजारा देख कर आया हूं,पांच किमी तक मुंड ही मुंड और तिरंगे ही तिरंगे दिखाई पड़ रहे। हमारे जान से प्यारा तिंरगा लेकर तीन लाख लोग यहां हैं उससे अधिक सड़कों पर भारत माता की जयकारा कर रहे। इतिहास ने तो वीर कुंवर सिंह का अपमान किया लेकिन बिहार की जनता ने आज बाबू जी को श्रद्धांजलि देकर उनका सम्मान बढ़ाया है। हम 13 साल से सार्वजनिक जीवन में हैं, आज 58 साल के हो गये। आज यह तस्वीर देख हम कह सकते हैं कि ऐसा हमें कभी नहीं दिखा। 

गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने हमारे सामने तीन लक्ष्य रखें हैं। स्वतंत्रता संग्राम के योद्धाओं की जीवनी को जीवंत करना है। 75 सालों में देश ने जो हासिल किया है उसे संजोना है। भारत सभी क्षेत्रों में नंबर वन होना चाहिए, यही बाबू कुंअर सिंह की सच्ची श्रद्धांजलि होगी। भारत सरकार बाबू कुंवर सिंह के जगदीशपुर किला पर स्मारक बनायेगी।  बाबू कुंवर सिंह बड़े समाज सुधारक भी थे। पिछड़े-दलितों को कल्याण के काम किये थे। उसी तरह हमारे प्रधानमंत्री दलितों-पिछड़ों के लिए काम कर रहे। पीएम मोदी अगर 130 करोड़ लोगों को मुफ्त टीकाकरण नहीं कराते तो न जाने कितने लोगों की कोरोना से जान चली जाती। मुफ्त टीका लगाकर सुरक्षा का सुदर्शन चक्र लगाने का काम किया है। अमित शाह ने कहा कि हम जब 7-8 साल के बच्चे थे तो गुरूजी ने हमें बाबू कुंवर सिंह के बारे में पढ़ाया था तब रोंगटे खड़े हो गये थे। आज जब हम यहां आये तो हमने देखा कि लाखो लोग हाथ में तिंरगा लेकर उनको श्रद्धांजलि देने पहुंचे।

Find Us on Facebook

Trending News