राजधानी के कोचिंग संस्थानों के रजिस्ट्रेशन और सुरक्षा प्रबंध की कल से होगी जांच, चलेगा विशेष अभियान

राजधानी के कोचिंग संस्थानों के रजिस्ट्रेशन और सुरक्षा प्रबंध की कल से होगी जांच, चलेगा विशेष अभियान

PATNA : सूरत हादसे के बाद अब राजधानी पटना के सभी कोचिंग संस्थानों में सुरक्षा के प्रबंध और रजिस्ट्रेशन की जांच होगी। यह अभियान कल से शुरू होगा। सुरक्षा मानकों से खिलवाड़ करने वाले कोचिंग संस्थानों पर कार्रवाई की जाएगी।

सदर एसडीओ कुमारी अनुपम सिंह ने राजधानी में चलने वाले रजिस्टर्ड कोचिंग संस्थानों की सूची जिला शिक्षा पदाधिकारी से मांगी है। इस सूची के आधार पर उनकी जांच जिला प्रशासन की टीम करेगी। जांच के दौरान तय मानक को पूरा नहीं करने वाले संस्थानों को मानक पूरा करने का एक मौका दिया जायेगा।  वहीं बगैर रजिस्ट्रेशन कराए शहर की विभिन्न गलियों में चलने वाले कोचिंग संस्थानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

डीएम के आदेश के बाद अग्निशमन विभाग की टीम ने भी कोचिंग संस्थानों का निरीक्षण कर रिपोर्ट तैयार की है। आज अग्निशमन विभाग की टीम द्वारा तैयार की गयी रिपोर्ट व जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा रजिस्टर्ड कोचिंग संस्थानों की उपलब्ध कराई जाने वाली सूची की समीक्षा की जाएगी।

शुक्रवार से विशेष अभियान चलाकर कोचिंग संस्थानों की जांच होगी। इस दौरान बगैर रजिस्ट्रेशन कराए कोचिंग संस्थान चलाने वाले प्रबंधकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

सूरत हादसे के बाद बरती जा रही सख्ती

सूरत मे हुए हादसे के बाद अब राजधानी पटना की सभी कोचिंग संस्थान में सुरक्षा  की जांच होगी। यह अभियान कल से शुरु होगा। सुरक्षा मानक से खिलवाड़ करने वाले कोचिंग संस्थान पर कार्रवाई की जाएगी। बता दें सूरत के एक कोचिंग संस्थान में आगलगी की घटना में बड़ी संख्या में छात्रों की मौत हो गई थी। वहीं कई गंभीर रुप से घायल हुए थे। 

राजधानी में सिर्फ 287 कोचिंग संस्थान निबंधित 

कोचिंग चलाने के लिए नगर निगम प्रदूषण विभाग फायर ब्रिगेड से एनओसी लेना पड़ता है इसके बाद शिक्षा विभाग द्वारा लाइसेंस जारी किया जाता है शिक्षा विभाग के अधिकारियों के मुताबिक पटना में छोटे-बड़े करीब 5000 कोचिंग संस्थान चल रहे हैं लेकिन वर्तमान समय में महज 287 कोचिंग संस्थान ही रजिस्टर्ड हैं। निबंधन कराने के लिए 2010 से 2019 के बीच 986 कोचिंग संस्थानों ने आवेदन दिया, लेकिन मानक पूरा नहीं करने के कारण निबंधन जारी नहीं किया गया।

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News