श्रावणी मेला को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने कसी कमर, जीरो कैजुअल्टी और सफाई पर विशेष जोर

श्रावणी मेला को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने कसी कमर, जीरो कैजुअल्टी और सफाई पर विशेष जोर

DEVGHAR :  देवघर में आगामी 17 जुलाई से विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला की शुरुआत होने वाली है. पिछले श्रावणी मेला में जीरो कैजुअल्टी का रिकॉर्ड बना कर स्वास्थ्य विभाग ने यात्रियों को एक बड़ा सुखद संदेश दिया था. इस बार भी विभाग श्रावणी मेले में बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था और कांवरियों को हर तरह की स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए कटिबद्ध हैं. 

झारखण्ड के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने मेले में पिछले बार से ज्यादा सुविधा देने की बात कही है. देवघर सदर अस्पताल में बेहतर सुविधा देने के लिए टीम बनाई जा रही है. वही कांवरिया पथ से लेकर सदर अस्पताल तक अलग-अलग कैंप भी लगाए जाएंगे. मंत्री ने कहा कि इस बार देवघर श्रावणी मेले में 235 डॉक्टरों की  प्रतिनियुक्ति की जा रही है. 

जिन्हें दुम्मा बॉर्डर से लेकर सदर अस्पताल तक में लगाया जाएगा. इसके अलावा सभी जगह एंबुलेंस की सुविधा रहेगी. साथ ही सदर अस्पताल में 108 से लेकर जनरल एंबुलेंस की भी चौबीसों घंटे व्यवस्था रहेगी. उन्होंने कहा की जो नर्स हड़ताल पर हैं उन्हें फिर से वापस लाया जाएगा.

 10 साल से ज्यादा कार्य कर चुके नर्सों को  परमानेंट किया जायेगा. इसके अलावा आने वाले भक्तों को चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के लिए देवघर सदर अस्पताल सहित सभी स्वास्थ्य शिविरों में सभी तरह की दवाइयां मौजूद रहेगी. इमरजेंसी के लिए कई अस्थाई इमरजेंसी कैंप भी लगाए जाएंगे. 

डॉक्टरों की छुट्टियां एक महीने रद्द कर दी जाएगी. मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य पर विशेष जोर दिया जा रहा है. इसके अलावा मेला को स्वच्छ रखने के लिए भी आवश्यक निर्देश दिए जा रहे हैं. कुल मिलाकर श्रावणी मेला में बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था देने के लिए सरकार कटिबद्ध है और इस बार भी जीरो कैजुअल्टी को बरकरार रखा जाएगा.

देवघर से सुनील की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News