अलीगढ़ में रिश्ते शर्मसार: तलाक के लिए पति ने रची खौफनाक साजिश, गर्भवती पत्नी को लगवाया HIV इंजेक्शन

अलीगढ़ में रिश्ते शर्मसार: तलाक के लिए पति ने रची खौफनाक साजिश, गर्भवती पत्नी को लगवाया HIV इंजेक्शन

अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक पति द्वारा अपनी पत्नी के साथ बेहद ही खौफनाक साजिश रची गई. पति द्वारा पत्नी के खिलाफ रची गई साजिश की तस्वीरें देखने और सुनने के बाद हर कोई इंसान पति पत्नी के रिश्ते को लेकर एक बार जरूर सोचने को मजबूर हो जाएगा कि आखिर क्या अपनी पत्नी से छुटकारा पाने के लिए कोई पति अपनी ही पत्नी के खिलाफ कितनी खौफनाक साजिश रच सकता है. पति द्वारा पत्नी के खिलाफ रची गई. इसी साजिश के तहत एक पति ने सात जन्मों तक साथ निभाने वाली अपनी पत्नी के गर्भवती होने पर उससे छुटकारा पाने और तलाक लेने के लिए एचआईवी इंजेक्शन लगवा दिए गए. पति अपनी साजिश में तो कामयाब हो गया. लेकिन पत्नी गर्भवती होने के बाद उसको हमेशा के लिए एचआईवी से ग्रसित कर दिया गया.

जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के जिला अलीगढ़ में  हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां पत्नी से तलाक के लिए पति ने गर्भवती पत्नी को इंजेक्शन देकर एचआईवी (HIV) संक्रमित कर दिया गया. पति द्वारा एचआईवी संक्रमित करने के मामले में पीड़ित युवती के पिता की तहरीर पर आरोपी पति सहित ससुराली जनों के खिलाफ लोधा थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है, जिसमें रामघाट रोड के एक नर्सिंग होम में यह साजिश रचे जाने और ससुराल पक्ष के रिश्तेदार नर्सिंग होम संचालक परिजन भी आरोपी बनाए गए हैं. फिलहाल पुलिस ने इस पूरे मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर तफ्तीश में जुटी है.

अलीगढ़ प्यार की खातिर पत्नी से तलाक के लिए ऐसी साजिश रची गई, जिसे सुनकर हर कोई हैरान है. यहां पति और ससुरालियों पर गर्भवती महिला को इंजेक्शन देकर एचआईवी संक्रमित करने और फिर मायके में छोड़ कराने का आरोप लगा है. पीड़ित युवती के पिता की तहरीर पर लोधा थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है, जिसमें रामघाट रोड के एक नर्सिंग होम में यह साजिश रचे जाने का आरोप है. ससुराल पक्ष के रिश्तेदार नर्सिंग होम संचालक परिजन भी आरोपी बनाए गए हैं.

दरअसल पीड़ित युवती ने आरोप लगाते हुए लोधा थाने में मुकदमा दर्ज कराया है. पीड़ित युवती की शादी 7 दिसंबर 2020 को शहर के रामघाट रोड निवासी संविदा हेल्थ वर्कर युवक संग उसकी शादी की गई थी. दहेज में 12 लाखों रुपए की नगदी और 25 रुपए का अन्य तरह का दहेज दिया गया था. आरोप है कि शादी के बाद युवती जब ससुराल पहुंची तो उसे पता चला कि उसके पति के साथ काम करने वाली किसी महिला हेल्थ वर्कर के साथ उसके पति का नाजायज संबंध है. हेल्थ वर्कर के साथ पति के अवैध संबंधों के चलते पति पत्नी के बीच कुछ दिन बाद ही विवाद शुरू हो गया था.

एचआईवी ग्रसित पीड़ित युवती के पिता ने जानकारी देते हुए बताया कि वह शिकायत लेकर 14 फरवरी 2021 को पीड़ित बेटी की ससुराल गए थे, यहां हम लोगों के साथ मारपीट की गई और ससुरालियों ने साफ कह दिया कि हम आपकी बेटी को निभा नहीं पाएंगे. इसलिए बेहतर होगा कि आप तलाक करा दें और शादी में जो खर्च हुआ है उसे वापस कर देंगे. महिला ने आरोप लगाया है कि पति ने यहां तक कह दिया कि मैं तुझे पसंद नहीं करता. घटनाक्रम पर महिला के मायके पक्ष के लोगों का आरोप है कि गर्भवती होने पर इलाज के लिए रामघाट रोड के एक नर्सिंग होम में लेकर आए थे.

उसी नर्सिंग होम में ससुराल पक्ष के लोगों ने एचआईवी संक्रमित करने का इंजेक्शन लगवा दिया है. आरोप लगाते हुए कहा है कि पति मारपीट करने के बाद गांव के बाहर छोड़ गया है. हालत खराब होने पर एक लैब में जांच कराई तो महिला एचआईवी पॉजिटिव आई है. महिला 6 महीने की गर्भवती है. हालांकि पुलिस ने भी कराएं एचआईवी परीक्षण, पुलिस रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है.


Find Us on Facebook

Trending News