नीतीश सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए तेजस्वी बोले- RSS-BJP से न तो लालू कभी डरे और न उनके बेटे कभी डरेंगे

नीतीश सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए तेजस्वी बोले- RSS-BJP से न तो लालू कभी डरे और न उनके बेटे कभी डरेंगे

पटना. संपूर्ण क्रांति दिवस के अवसर महागठबंधन की राजद और लेफ्ट पार्टी ने नीतीश सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी किया। इस दौरान बापू सभागार में एक कार्यक्रम भी आयोजित किया। इसमें राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव ने भी संबोधित किया। साथ ही सीपीआई और सीपीएम के डी राजा और दीपांकर भट्टाचार्या ने भी कार्यक्रम में संबोधित किया। इस दौरान राजद नेता और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी अपने संबंधोन में बिहार की नीतीश सरकार और केंद्र की भाजपा सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि बिहार में डबल सरकार नहीं है। न बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिला और न ही विशेष पैकेज मिल रहा है।

मोदी के खिलाफ बोलने वाले पर रेड पड़ती है

इस दौरान तेजस्वी यादव कार्यक्रम में बिहार सरकार से ज्यादा केंद्र सरकार के खिलाफ ज्यादा हमलावर दिखे। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि आज जो भी विपक्ष के नेता मोदी सरकार के खिलाफ बोलते हैं, उनके पीछे सीबीआई, ईडी, इनकम टैक्स और केंद्र की जांच एजेंसियां लग जता है। उन्हें डराने के लिए केंद्र सरकार उनके घर पर जांच एजेंशी का दुरुपयोग करते हुए रेड करवाती है। इस दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा आरएसएस न तो लालू यादव कभी डरे थे और न ही उनके बेटे तेजस्वी यादव कभी डरेगा।

एनडीए सरकार ने वादा पूरा नहीं किया

वहीं इस दौरान तेजस्वी ने रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए कहा कि बिहार की एनडीए सरकार ने अपने चुनावी वादों का पूरा नहीं किया। इन लोगों ने चुनाव के दौरान अपनी घोषणा पत्र में प्रत्येक साल 19 लाख रोजगार देने वादा किया था, लेकिन इसे पूरा नहीं किया जा रहा है। उन्होंने बिहार सरकार के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा कि यह सरकार चोर दरबाजे से बनी है। उन्होंने रिपोर्ट कार्ड दिखाते हुए कहा कि इसमें बिहार सरकार सिर्फ, 'किया शोषण, उत्पीड़न अत्याचार... दिया बेरोजगारी और  भ्रष्टाचार... चोरी से आई चोर सरकार ले डूबी पूरा बिहार' इस पर खड़ा उतरती है।

हिंदू नहीं कुर्सी खतरे में है

वहीं उन्होंने भाजपा और आरएसएस के खिलाफ हमला बोलते हुए कहा कि इन्हें लगता है कि हिंदू खतरे में है। दरअसल हिंदू खतरे में नहीं है, बल्कि इनकी कुर्सी खतरे में हैं। उन्होंने भाजपा से सवाल पूछते हुए कहा कि आज तीनों सेना के चीफ हिंदू है। राष्ट्रपति हिंदू है। प्रधानमंत्री हिंदू है। बिहार के सभी राज्य के मुख्यमंत्री हिंदू है फिर हिंदू कैसे खतरे में हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि जिन्हें लगता है कि सरकार नहीं झुकती है। उन्हें मैं बता दूं कि हम सब एक हो जाए तो निश्चित तौड़ पर सरकार को झुकन पड़ेगा। जातीय जनगणना पर हम लोगों ने मिलकर लड़ाई लड़ी तो बिहार सरकार को झुकना पड़ा।

Find Us on Facebook

Trending News