न्यूज4नेशन की खबर का असर, कांग्रेस नेता पर दर्ज केस मामले में पुलिस की सुस्ती पर एसएसपी ने डीएसपी को लगाई जमकर फटकार

न्यूज4नेशन की खबर का असर, कांग्रेस नेता पर दर्ज केस मामले में पुलिस की सुस्ती पर एसएसपी ने डीएसपी को लगाई जमकर फटकार

PATNA : न्यूज4नेशन की खबर का बड़ा असर हुआ है। यूथ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार से जुड़े केस मामले में सुस्ती बरतने को लेकर पटना एसएसपी गरिमा मलिक ने डीएसपी को फटकार लगाई है। 

एसएसपी ने पटना टाउन डीएसपी सुरेश कुमार को जमकर फटकार लगाते हुए 15 दिनों के अंदर सिविल कोर्ट से अनुमति लेकर आरोपित पुलिसकर्मियों की लिखावट का मिलान कराने के लिए हैंड राइटिंग का नूमना लेने का आदेश दिया है। 

वहीं नमूने को तुरंत एफएसएल जांच को भेजने को कहा है ताकि रिपोर्ट आने में बिलंब न हो और दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की जा सके। बता दें की स्टेशन डायरी में हेरफेर करने का आरोप कोतवाली थाने में पदस्थापित सहायक अवर निरीक्षक विक्रमादित्य झा और मुंशी मनोज कुमार पर लगा है। एसएसपी ने यह भी कहा है कि अगर इन दोनों आरोपियों ने जमानत नहीं ली है तो इनके विरुद्ध गिरफ्तारी वारंट का आदेश लें

बताते चले कि  दें न्यूज4नेशन की इस हाईप्रोफाइल मामले को पिछले दिनों प्रमुखता से उठाया था। 

हमने खबर चलाई थी  राजधानी पटना की कोतवाली पुलिस ने नटवरलाल ललन कुमार पर केस तो दर्ज कर लिया लेकिन केस दर्ज कर फाईल को डंप कर दिया गया। तभी तो अबतक कार्रवाई के नाम पर रत्ती भर भी प्रयास नहीं किया गया। हद तो तब हो गई है जब इस हाई प्रोफाईल मामले में वरीय अधिकारियों ने  पर्यवेक्षण रिपोर्ट तक नहीं निकाला है। लिहाजा कोतवाली थाना की पुलिस वरीय अधिकारियों के आदेश के इंतजार में हाथ पर हाथ धरे बैठी है।

डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर राकेश कुमार से जब पूछा गया कि नटवरलाल ललन कुमार के फर्जीवाडा मामले में क्या कार्रवाई की गई तो उन्होंने कहा कि अभी जांच चल रही है।जांच के बाद कार्रवाई होगी।

कोतवाली थानाध्यक्ष के बयान पर दर्ज हुआ था केस

बता दें कि कोतवाली पुलिस की मदद से फर्जी एफआईआर करवाकर गुरुग्राम के निर्भय सिंह व उनकी पत्नी को जेल भिजवाने के आरोप में प्रदेश युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार पर कोतवाली थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी।नटवरलाल ललन कुमार के साथ-साथ तत्कालीन एसआई विक्रमादित्य झा और सिपाही मनोज कुमार पर भी कोतवाली थानाध्यक्ष के बयान पर  मामला दर्ज किया गया था।जानकारी के अनुसार एडीजी के आदेश पर सिटी एसपी पीके दास ने जांच की थी और जांच में कांग्रेस नेता ललन कुमार और कोतवाली थाने का 2 कर्मी को लिप्त पाया था।एसपी की जांच रिपोर्ट के बाद ललन कुमार पर केस दर्ज हुआ।.लेकिन केस दर्ज किए जाने के बाद अब डीएसपी साहब के स्तर से पर्यवेक्षण रिपोर्ट जारी नहीं हुआ है लिहाजा कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

क्या है मामला

बता दें कि कांग्रेस नेता की पत्नी कनक शर्मा पर आरोप है कि गुडगांव में रहने के दौरान निर्भय सिंह और पत्नी से अच्छे संबंध बना लिए।इसी दौरान कनक का हरियाणवी दंपत्ति के घर आना-जाना शुरू हो गया।इसका लाभ उठाते हुए कनक ने दंपत्ति के साईन किए कुछ चेक चुरा लिए और अपने पति ललन कुमार को दे दिए।फिर क्या था ललन का मन भी बेईमान हुआ और चुराए हुए चेकों पर अपना नाम और राशि भरकर खाते में डाल लिया।खाते में रकम नहीं होने की वजह से स्वाभाविक रूप से चेक बाउंस हो गया।चेक बाउंस करते हीं कांग्रेस नेता ललन और उसकी पत्नी ने हरियाणवी दंपत्ति पर राजधानी पटना के कोतवाली थाने में केस कर दिया।

विवेकानंद की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News