सपनों के सौदागर से पटना वाले हो जाएं होशियार: गोवा सिटी-व्हाइट हाउस जैसे नाम के फेरा में फंसे तो लूट जाएंगे, 'पल्लवी' राज पर RERA का चाबुक

सपनों के सौदागर से पटना वाले हो जाएं होशियार: गोवा सिटी-व्हाइट हाउस जैसे नाम के फेरा में फंसे तो लूट जाएंगे, 'पल्लवी' राज पर RERA का चाबुक

PATNA: हर कोई सपना देखता है कि उसका अपना एक आशियाना हो. पूरी जिंदगी जतन से कमाई करता है तो एक मकान या फ्लैट की राशि जुगाड़ करता है। लेकिन बिल्डर-माफिया एक झटके में सपनों का सौदा कर लेता है। फ्लैट लेने वाले ग्राहकों को बिल्डर अपार्टमेंट का फर्जी कागजात पेश करता है और बुकिंग के नाम पर रू ठग लेता है। बिल्डर के जाल में फंसने के बाद ग्राहकों को कोई चारा नहीं बचता. और अपना पैसा देकर ग्राहक बेचारा बन जाता है। इधर, दूसरे के पैसे से बिल्डर ऐश-मौज करते हैं। पटना में इन दिनों यह फर्जीवाड़ा आम बात है जहां बिना रेरा से परमिशन के ही धंधा किया जा रहा। हालांकि रेरा ने पटना के बिल्डरों पर नकेल कसने की पूरी कोशिश कर रही है।  रेरा ने ऐन वक्त पर ठगी करने के प्रयास में लगे पल्लवी राज कंस्ट्रक्शन कंपनी पर सख्त कार्रवाई किया है। रेरा ने तत्काल एक्शन लेते हुए अपार्टमेंट निर्माण,बिक्री,प्रचार समेत अन्य गतिविधियों पर रोक लगा दी। 18 मार्च को फिर से इस पर सुनवाई होगी।    

सपनों के सौदागर से पटना वाले हो जाएं होशियार

पटना के पल्लवी राज कंस्ट्रक्शन ने पटना वालों को गोवा सिटी से लेकर व्हाइट हाउस समेत न जाने और कौन-कौन नाम का सब्जबाग दिखा रहा । जबकि कंपनी ने इन प्रोजेक्ट को बिना रेरा की अनुमति से ही ग्रहकों को ठगने की कोशिश में जुट गया था। हालांकि रेरा ने समय रहते पूरी प्लानिंग से पानी फेर दिया है। बिल्डर का पहले गोवा सिटी के फर्जीवाड़े की पोल खुली इसके बाद व्हाइट हाउस की। पल्लवी राज कंस्ट्रक्शन कंपनी ने फतुहा से पहले एक बड़े प्लॉट पर व्हाइट हाऊस पल रेसीडेंसी का बोर्ड लगा दिया है। बोर्ड पर कंपनी ने रेरा नंबर भी डाला है। अब यह खुलासा हुआ है कि व्हाइट हाऊस नाम से रेरा में निबंधन की बात छोड़िए आवेदन तक नहीं जमा हुआ है।ऐसे में कंपनी ने एक और फर्जीवाड़ा किया है। इस बिल्डर को सिर्फ जमीन बेचने के लिए एजेंट का लाईसेंस मिला है। लेकिन यह तो उसी लाईसेंस को रेरा नंबर बता कर बड़ा-बड़ा बैनर लगा ग्राहकों को फंसाने की साजिश कर रहा।  

RERA ने बिना निबंधन व्हाइट हाऊस पल रेसिडेंसी का बोर्ड लगाने के मामले भी मांगी जानकारी

बता दें, दीदारगंज थाना क्षेत्र के नत्थुचक के पास पल्लवी राज कंस्ट्रक्शन कंपनी का एक बडा होर्डिंग्स लगा दिया है। होर्डिंग्स में कंपनी ने अपना रेरा नंबर भी उल्लेख किया है। उस पर व्हाइट हाऊस पल रेसिडेंसी और एक भव्य अपार्टमेंट की तस्वीर छापा गया है . उसपर कांट्रेक्ट नंबर और कंपनी का एड्रेस दिया गया है। रेरा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार व्हाइट हाऊस पल रेसिडेंसी नाम से निबंधन की बात छोड़िए निबंधन के लिए आवेदन भी नहीं मिला है। होर्डिंग्स पर जो रेरा नंबर उल्लेख किया गया है वो जमीन एजेंट के लिए रेरा ने जारी किया है न कि अपार्टमेंट बनाने के लिए.  रेरा सूत्रों ने बताया कि इस रेरा नंबर से कोई कंपनी उक्त जमीन पर अपार्टमेंट बनाने के लिए अधिकृत नहीं है। वो सिर्फ जमीन बेंचने के लिए एजेंट को जारी किया जाता है। इस संबंध में कंपनी के निदेशक ने कहा कि रेरा से उन्हें जमीन बिक्री करने के लिए एजेंट का निबंधन रेरा से मिला हुआ है। इसी आधार पर बोर्ड लगाया गया है।  हालांकि रेरा को चैलेंज देते हुए पल्लवी राज कंस्ट्रक्शन कंपनी ने बिना निबंधन के व्हाइट हाऊस पल रेसीडेंसी का बोर्ड कैसे लगा दिया यह गंभीर सवाल है। रेरा तक यह मामला पहुंच गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रेरा ने इस फर्जीवाड़े के लिए भी कंपनी से शो-कॉज पूछा है।  

गोवा सिटी में फर्जीवाड़ा का खेल उजागर

पटना में गोवा सिटी का सब्जबाग दिखा कर बुकिंग का झांसा देने वाली कंपनी के प्रोजक्ट पर रेरा ने पिछले महीने ही रोक लगाई है। पल्लवी राज कंस्ट्रक्सन कंपनी को गोवा सिटी के विज्ञापन, मार्केटिंग, बुकिंग, सेलिंग और बिक्री के लिए ऑफर, खरीदारी के लिए आमंत्रण देने पर पूरी तरह से रोक लगा दी है. साथ ही कंपनी को नोटिस देकर इस फर्जीवाड़े पर अपना पक्ष रखने को कहा है। अगर कंपनी अपना पक्ष नहीं रखेगी तो रेरा एकतरफा निर्णय लेगा. इस पर सुनवाई 18 मार्च को प्रस्तावित है। 

रेरा से निबंधित बता फर्जीवाड़ा की कोशिश

बता दें कि रेरा ने अपने 25 फऱवरी के आदेश में कहा है कि पल्लवीराज कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी अखबार में गोवा सिटी का विज्ञापन दिया। विज्ञापन में कंपनी ने गोवा सिटी प्रोजेक्ट को रेरा से अप्रूव्ड बताया है.कंपनी ने यह पूरी से फर्जीवाड़ा किया है। पल्लवी राज कंस्ट्रक्शन गोवा सिटी का रेरा से निबंधन नहीं किया और अखबारों में विज्ञापन दिया कि प्रोजेक्ट रेरा से अप्रूव है. कंपनी ने रेरा के कानून का उल्लंघन किया है.रेरा ने अखबार में छपे विज्ञापन पर स्वतः संज्ञान लेते हुए गोवा सिटी के भूमि पूजन, बुकिंग समेत तमाम गतिविधियों पर रोक लगा दी है. बता दें कि पल्लवी राज कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी सगुना इलाके में गोवा सिटी का निर्माण कराने वाली है। कंपनी द्वारा इस प्रोजेक्ट का 27 फऱवरी को भूमि पूजन का कार्यक्रम तय किया था। भूमि पूजन  को लेकर अखबार में विज्ञापन दिया गया और बुकिंग को लेकर ऑफर दिए गए थे. बुकिंग के साथ ही सोने का सिक्का एवं अन्य उपहार देने की घोषणा की थी. ऐन वक्त पर रेरा का डंडा चला और कंपनी की पूरी पोल खुल गई. बिहार के लोग ऐसी कंस्ट्रक्शन कंपनी पर सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे जो ग्राहकों को ठगने का काम करते हैं। 

Find Us on Facebook

Trending News