राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री ने किया रिकॉर्डिंग ऑफ इनकम्ब्रैंसेस पोर्टल का उद्घाटन, जमीन के बंधक रखने की मिलेगी जानकारी

राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री ने किया रिकॉर्डिंग ऑफ इनकम्ब्रैंसेस पोर्टल का उद्घाटन, जमीन के बंधक रखने की मिलेगी जानकारी

PATNA : बिहार सरकार के राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के मंत्री राम सूरत कुमार ने आज रिकॉर्डिंग ऑफ इनकम्ब्रैंसेस पोर्टल का शुभारंभ किया। इस पोर्टल के माध्यम से अब इस बात की जानकारी मिल सकेगी कि कोई जमीन किसी बैंक में बंधक तो नहीं रखी गई है। इससे बैंकों द्वारा आम लोगों के आवेदन पर ऋण स्वीकृत करने के काम में गति आएगी। इसके जरिए जमीन की खरीद-फरोख्त में संभावित धोखे से बचा जा सकता है। लॉचिंग के मौके पर मंत्री ने बैंकों के साथ आम लोगों से इस सुविधा का लाभ उठाने की अपील की। उन्होंने कहा कि इस सुविधा का सबसे बड़ा लाभ उन लोगों को होगा जो जानकारी के अभाव में वैसी जमीन को खरीद लेते हैं जो बैंक के पास गिरवी पड़ी होती है। 

विभाग के अपर मुख्य सचिव विवेक कुमार सिंह ने कहा कि बैंकों की यह पुरानी मांग थी। एसएलबीसी यानि बैंकों के राज्य स्तरीय बैठक में बार-बार दो मुद्दे उठाए जा रहे थे। एक एलपीसी को ऑनलाइन करने का और दूसरा जमीन को रेहन रखने की जानकारी को ऑनलाइन करने का। एलपीसी की सुविधा विभाग द्वारा पूर्व में ही रैयतों को दी जा चुकी है। अब इस पोर्टल को लांच करके विभाग ने बैंकों के साथ आम लोगों को बड़ी राहत दी है। 

इस पोर्टल के लांच होने के बाद अब बैंकों को अंचल ऑफिस से पत्राचार की भी जरूरत नहीं रहेगी। ऑनलाइन एलपीसी देखकर बैंक लोन स्वीकृत करेंगे और सारी जानकारी पोर्टल पर डाल देंगे। इससे बाद में धोखाधड़ी की संभावना समाप्त हो जाएगी। कई शिकायतें ऐसी भी हैं जिसमें जमीन मालिक द्वारा एक ही दस्तावेज/केवाला बंधक रखकर और बैंक बदलकर कर्ज ले लिया गया है। इस तरह के मामलों में सबसे बड़ी समस्या होती है कि संबंधित रैयत कर्ज का भुगतान नहीं कर पाता और बैंक का कर्ज डूब जाता है। अब इस तरह के फर्जीवाड़े पर लगाम लगेगा।

Find Us on Facebook

Trending News