बीजेपी से मिल गए हैं बिहार कांग्रेस प्रभारी, शक्ति नाम होने से कोई शक्तिशाली नहीं हो जाता है

बीजेपी से मिल गए हैं  बिहार कांग्रेस प्रभारी, शक्ति नाम होने से कोई शक्तिशाली नहीं हो जाता है

PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव की रणभेरी बजने के बाद भी महागठबंधन में सीट शेयरिंग का मुद्दा अब और उलझता जा रहा है. बिहार कांग्रेस प्रभार शक्ति सिंह गोहिल ने तेजस्वी के लेकर जुबान क्या खोली राजद ने शक्ति सिंह के कांग्रेसी होने पर ही सवाल उठा दिया. 

बीजेपी से मिले हैं शक्ति सिंह
सीट शेयरिंग को लेकर कांग्रेस और राजद के बीच खींचतान अब खुलकर सामने आ गई है. राजद ने कांग्रेस को जो सीटों का ऑफर दिया उससे कांग्रेस नाराज चल रही. राजद से बात बनते न देख बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल तेजस्वी के खिलाफत में सूझबुझ वाला सवाल क्या उठाया तेजस्वी के सिपाही मृत्युंजय तिवारी ने शक्ति सिंह गोहिल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि शक्ति सिंह गोहिल बीजेपी के साथ मिल गए हैं और शक्ति नाम होने से कोई शक्तिशाली नहीं हो जाता है.

यही नहीं मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि गोहिल जी प्रभारी हैं ठीक लेकिन ज्यादा बोल देने से परेशानी में पड़ जाएंगे. यही नहीं राजद ने साफ तौर पर कहा कि हमारे नेता की बात आलाकामन से होती है और हो रही है. इसके साथ ही राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि अब राजद धोखा नहीं खाने वाली है. उन्होंने कहा कि शक्ति सिंह गोहिल गुजरात से आते हैं उनको बिहार का भूगोल पता नहीं है इसलिए उनको सोच समझकर बोलना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने गोहिल के नियत पर भी सवाल उठा दिया.

राजद के इस कड़े रुख के बाद कांग्रेस की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई देखना है कि राजद के इस बड़े आरोप के बाद कांग्रेस क्या रुख अख्तियार करती है.

Find Us on Facebook

Trending News