आरजेडी-कांग्रेस को बेटा-बेटी के अलावा कुछ दिखता ही नहीं... कौन जनता-कैसी जनता!

आरजेडी-कांग्रेस को बेटा-बेटी के अलावा कुछ दिखता ही नहीं... कौन जनता-कैसी जनता!

पटना: जदयू और भाजपा में भर्ती प्रक्रिया बड़े पैमाने पर की जा रही है। जदयू के बाद अब भाजपा ने भी कई बड़े नेताओं को पार्टी में शामिल कराया है। बीजेपी प्रदेश कार्यालय में आयोजित मिलन समारोह में राजद के कई बड़े नेताओं ने भाजपा का दामन थामा। बुधवार को भाजपा के प्रदेश प्रभारी भूपेन्द्र यादव, पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी, प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल की मौजूदगी में लालू के करीबी और सीतामढ़ी से सांसद रहे सीताराम यादव समेत कई अन्य नेताओं ने पार्टी की सदस्यता ली। 

भूपेन्द्र यादव का राजद-कांग्रेस पर अटैक

बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने कहा कि आरजेडी ने हमेशा वोट बैंक की राजनीति की और उसी वोट बैंक से छलावा किया। कांग्रेस ने भी वोट बैंक की राजनीति की और परिवार के अलावा किसी की तरफ देखा भी नहीं। आरजेडी-कांग्रेस की आंखों पर परिवारवाद का ऐसा पर्दा चढ़ा है कि उन्हें बेटा-बेटी के अलावा कुछ दिखता ही नहीं। कौन जनता, कैसी जनता! भूपेन्द्र यादव ने आगे कहा कि अगर आरजेडी, कांग्रेस सहित अन्य दलों के नेता उन्हें छोड़कर BJP के साथ जा रहे हैं तो इसका सीधा मतलब है कि उनका अपने नेतृत्व की कार्यशैली पर भरोसा नहीं है। उन्हें भरोसेमंद नेतृत्व चाहिए, जो भाजपा देश को दे रही है। नीति, नीयत व नेतृत्व विहीन दलों से लोगों का मोहभंग होना स्वाभाविक है। 

कई बड़े नेता बीजेपी में हुए शामिल

पार्टी में जिन बड़े नेताओं ने सदस्यता ली है उनमें लालू के करीबी कहे जानेवाले पूर्व सांसद सीताराम यादव बीजेपी में हुए हैं। इनके अलावा पूर्व विधायक सुबोध पासवान, दिलीप कुमार यादव पूर्व एमएलसी, पूर्व सांसद रामजी मांझी , पूर्व विधायक नगीना देवी , कंग्रेस नेत्री अनिता यादव, मीरा देवी उप महापौर पटना ,पूर्व उप महापौर पटना संतोष मेहता शामिल हैं।


Find Us on Facebook

Trending News