तेजस्वी यादव जो नहीं चाहते हैं वही काम बार बार कर रहे हैं राजद नेता और कार्यकर्ता, फिर से दिखा

तेजस्वी यादव जो नहीं चाहते हैं वही काम बार बार कर रहे हैं राजद नेता और कार्यकर्ता, फिर से दिखा

पटना. उप मुख्यमंत्री बनने के बाद तेजस्वी यादव ने अपने शुभचिंतकों और समर्थकों के लिए विशेष फरमान जारी किया था. लेकिन ऐसा लगता है कि तेजस्वी का सुझाव उनके चाहने वाले अभी तक आत्मसात नहीं कर पाएं हैं. नतीजा है कि तेजस्वी यादव जो नहीं चाहते हैं, वही करते बार बार राजद नेता और कार्यकर्ता दिखा जाते हैं. एक बार फिर से गुरुवार को ऐसा ही नजारा दिखा राजद के पटना स्थित कार्यालय में जहाँ तेजस्वी यादव के पहुंचने पर बड़ी संख्या में पार्टी नेता और कार्यकर्ता उनके स्वागत के लिए मौजूद थे. 

दरअसल, नीतीश कुमार के साथ सरकार बनाने के बाद तेजस्वी यादव ने अपनी पार्टी के नेताओं और विशेषकर मंत्रियों के लिए एक आचार संहिता सूची जारी की थी. इसमें उन्होंने सार्वजनिक अपील की थी कि जब भी कोई उनसे या राजद नेताओं, मंत्रियों से मिलने आए तो साथ में फूल और गुलदस्ता नहीं लाएं. इसके बदले लोग अपने साथ किताब-कलम जैसा कुछ लेकर आएं. तेजस्वी की इस अपील का असर भी दिखा और कई नेताओं को अपने साथ किताब-कलम लेकर किसी को भेंट करता देखा गया. लेकिन अभी भी कई लोग हैं जो तेजस्वी के इस सुझाव से अनजान बने हैं. 


ऐसा ही देखने को मिला गुरुवार को जब तेजस्वी यादव राजद के कार्यालय पहुचे. उनके आने पर स्वागत में खड़े लोगों ने उन्हें गुलदस्ता और फूलों की माला भेंट की. तेजस्वी शिष्टाचार के तहत सबका भेंट स्वीकारते हुए और हाथ जोड़कर अभिवादन करते हुए आगे बढ़ते गए. एक प्रकार से तेजस्वी के सुझाव से आज भी उनके कई समर्थक अनजान हैं. नतीजा है कि तेजस्वी यादव जो नहीं चाहते हैं वही काम बार बार कर रहे हैं राजद नेता और कार्यकर्ता करते दिख जाते हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News