राजद विधायकों में भारी असंतोष...अगर नेता इसी तरह से अदृश्य रहे तो विस चुनाव में कहीं पार्टी हीं न गायब हो जाए....

राजद विधायकों में भारी असंतोष...अगर नेता इसी तरह से अदृश्य रहे तो विस चुनाव में कहीं पार्टी हीं न गायब हो जाए....

PATNA:  विधायकों की संख्या के हिसाब से बिहार में राजद सबसे बड़ी पार्टी है।लेकिन वही पार्टी सबसे ज्यादा नाजुक दौर से गुजर रही है।पार्टी के सर्वेसर्वा लालू प्रसाद जेल में हैं।उनकी गैरमौजूदगी में जिनके कंधे पर पार्टी का जिम्मा है वे कहां हैं विधायकों को भी पता नहीं है।लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद से हीं करीब-करीब अदृश्य चल रहे तेजस्वी यादव को लेकर अब राजद विधायकों में भी भारी असंतोष उत्पन्न हो रहा है।पार्टी के विधायक अब मीडिया के सामने अपरोक्ष रूप से यह कहने से बाज नहीं आ रहे कि अगर हमारे नेता का यही हाल रहा तो फिर पार्टी को रसातल में जाने से अब कोई नहीं रोक सकता।

2020 में कहीं पार्टी हीं न अदृश्य हो जाए...

न्यूज4नेशन ने कई विधायकों से बात की।सबका एक हीं दर्द था कि जिस तरह से नेतृत्वकर्ता हीं अदृश्य हो गया है, कहीं 2020 के विधानसभा चुनाव में पार्टी हीं न अदृश्य हो जाए...। राजद विधायक इसके पीछे तर्क देते हैं कि चुनाव कार्यकर्ताओं की बदौलत जीती जाती है।लेकिन हमारी पार्टी के कार्यकर्ता पूरी तरह से मायूस हो गए हैं।राजद कार्यकर्ताओं को अब यह लगने लगा है कि राजद के दिन अब नहीं बहुरने वाले हैं।सिर्फ कार्यकर्ता हीं मायूस नहीं हैं बल्कि विधायक और बड़े नेता भी मायूस और निष्क्रिय हो गए हैं।

यही स्थिति रही तो सोंचने पर होना पड़ेगा मजबूर

पार्टी के एक विधायक ने तो यहां तक कह दिया कि अगर यही स्थिति रही तो आने वाले दिनों मे विधायकों को सोंचने पर मजबूर होना पड़ेगा।क्यों कि वर्तमान स्थिति ज्यादा दिन तक तक रही तो विकल्प चुनने के अलावे कोई रास्ता नहीं बचेगा।

जिस पार्टी का नेता हीं अदृश्य हो उसके साथ कौन जुड़ेगा ?

पार्टी के विधायक तो यहां तक कहते हैं कि राजद भले हीं सदस्यता अभियान चला रही हो लेकिन उस पार्टी में कौन शामिल होगा जिसके नेता का हीं कोई अता-पता नहीं।इसीलिए क्षेत्र में राजद से जुड़ने के लिए कोई तैयार नहीं हो रहा।पार्टी ने जिम्मेवारी दी है उसको हर नेता बेमन से कर रहा है।   

हालांकि राजद प्रवक्ता भाई वीरेन्द्र कहते हैं कि पार्टी की तरफ से जो जिम्मा दिया गया है उसे नेता हों या विधायक हर कोई पूरा कर रहा है।जहां तक तेजस्वी यादव के नहीं रहने की बात है तो वे जल्द हीं लौट रहे हैं।


Find Us on Facebook

Trending News