कांग्रेस के साथ हुई झड़प पर राजद की सफाई, हंगामे के बाद भी आरजेडी विधायक ने महागठबंधन को बताया एकजुट

कांग्रेस के साथ हुई झड़प पर राजद की सफाई, हंगामे के बाद भी आरजेडी विधायक ने महागठबंधन को बताया एकजुट

PATNA : कांग्रेस सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह का मोतिहारी में विरोध की खबरों के बीच महागठबंधन के नेता आक्रामक मोड़ में आ गए हैं। महागठबंधन के नेता इसे बीजेपी का प्रोपेगेंडा करार देते हुए इसका जवाब देने को लेकर मैदान में उतर गए हैं।

मोतिहारी में महागठबंधन की मीटिंग में हरसिद्धि के राजद विधायक राजेन्द्र राम को नही बोलने देने की खबर और इसे लेकर राजद-कांग्रेस के बीच हुई झड़प को खुद राजेन्द्र राम ने अफवाह बताया है। उन्होंने कहा कि गलतफहमी में कुछ लोगो ने नारेबाजी कर दी थी, लेकिन हमलोगों ने तत्काल सभी को शांत करा दिया। उनके भाषण नही देने के पीछे वजह यह थी कि कार्यक्रम की तय समय सीमा खत्म हो रही थी, इसलिए कई नेताओं ने खुद बोलने से मना कर दिया। सांसद अखिलेश सिंह भी बड़ी मुश्किल से कुछ मिनट ही भाषण दे सके।

हरसिद्धि विधायक राजेन्द्र राम ने कहा कि मोतिहारी से अखिलेश सिंह के बेटे आकाश सिंह के मैदान में उतारने के बाद बीजेपी और उसके उम्मीदवार राधामोहन सिंह को पेट मे दर्द शुरू हो गया है। एक मजबूत कैंडिडेट सामने उतरने के बाद अब बीजेपी के नेता विरोध का अफवाह फैलाने में जुटे हैं। लेकिन वे अपने मंसूबे में कामयाब नही होंगे। उन्होंने कहा कि पूर्वी चंपारण में महागठबंधन पूरी तरह एकजुट है और अखिलेश सिंह के बेटे और RLSP उम्मीदवार आकाश सिंह को चुनाव जीतने से कोई नही रोक सकता

बता दें कि रविवार को RLSP से टिकट मिलने कब बाद पहली दफा अखिलेश सिंह अपने बेटे आकाश सिंह को लेकर मोतिहारी पहुंचे थे। कल महागठबंधन की बैठक थी जिसमे  कुछ लोगो को बोलने का मौका नही मिला था। जिस वजह से उनके समर्थक कुछ देर के लिए नारेबाजी किये थे। हालांकि अखिलेश सिंह ने तत्काल उनलोगों को शांत करा दिया था।


Find Us on Facebook

Trending News