राज्यसभा सांसद मनोज झा का बयान, बीजेपी का संकल्प तब आया, जब बिहार के लोगों ने अपना विकल्प खोज लिया

राज्यसभा सांसद मनोज झा का बयान, बीजेपी का संकल्प तब आया, जब बिहार के लोगों ने अपना विकल्प खोज लिया

पटना... बीजेपी के घोषणापत्र के जारी होने के बाद राजद के नेताओं ने पलटवार करना शुरू कर दिया है। अब पक्ष-विपक्ष के बीच रोजगार के मुद्दों पर बयानबाजी होने लगी है। इस बीच राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा कि बीजेपी का संकल्प तब आया, जब बिहार के लोगों ने अपना विकल्प खोज लिया है। बीजेपी अब आई सही मुद्दों पर। जब नेता प्रतिपक्ष कह रहे थे हम लोगों को 10 लाख नौकरियां देंगे तो यही पार्टी मजाक बना रही थी। अब खुद 19 लाख रोजगार देने की बात कह रहे हैं। 

मनोज झा यहीं नहीं रूके, उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष तो साढ़े चार लाख नौकरी तो 19वें दिन ही देंगे और पांच लाख से अधिक नौकरी के लिए वेकेंसी जारी कर दी जाएगी। वहीं बीजेपी अपने घोषणापत्र में नौकरी के दावों को गोल-गोल घुमा रही है। बीजेपी कह रही है कि हम नौकरी सरकार बनने के बाद सृजन करेंगे। हालाकि बीजेपी को पूर्व में नीतीश कुमार भी बड़का झूठा पार्टी कह चुके हैं, जब नरेंद्र मोदी में 2015 के चुनाव में सवा लाख करोड़ पैकेज की घोषणा की थी। वो तो भला हो देश के गृह मंत्री का जो उन्होंने इसे बाद में जुमला करार दिया। 



वहीं बीजेपी का घोषणापत्र जारी करने पहुंची देश की वित मंत्री निर्मला सीतारमण पर भी निशाना साधा। मनोज झा ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था उनसे तो संभल नहीं रही है और वो बिहार के नेता प्रतिपक्षा पर उंगली उठा रही हैं। मनोज झा ने कहा कि नीतीश कुमार ने बताएं कितने रोजगार अब तक दिए। कोरोना काल में उन्होंने प्रवासियों को बाहर आने से भी रोका, कहा बाहर से आकर ये लोग लूट मार मचाएंगे। 


Find Us on Facebook

Trending News