लालू यादव के खासमखास विनोद श्रीवास्तव फूट-फूट कर रोए, आखिर क्यों? पढ़ लीजिए

लालू यादव के खासमखास विनोद श्रीवास्तव फूट-फूट कर रोए, आखिर क्यों? पढ़ लीजिए

PATNA : लालू यादव के करीबी विनोद श्रीवास्तव शनिवार को संवाददाता सम्मेलन में फूट-फूट कर रोने लगे। विनोद श्रीवास्तव का लालू परिवार के साथ काफी करीबी रिश्ता रहा है। दिल्ली में जब लालू मंत्री हुआ करते थे तो विनोद श्रीवास्तव उनके निजी सचिव हुआ करते थे। लालू का दिल्ली में सारा काम विनोद ही देखा करते थे।

 गौरतलब है कि विनोद श्रीवास्तव राजद के टिकट पर 2014 में पूर्वी चंपारण लोकसभा और 2015 में राजद के ही टिकट पर मोतीहारी विधानसभा से चुनाव लड़ चुके हैं। विनोद इस बार भी पूर्वी चंपारण से लोकसभा चुनाव लड़ना चाह रहे थे, लेकिन महागठबंधन में सीट आरएलएसपी के खाते में चली गई। फिर क्या था विनोद के चुनाव लड़ने का मंसूबा इस बार ध्वस्त हो गया। 

विनोद इसे पूरी तरह पचा नहीं पा रहे हैं। पत्रकारों से अपना दर्द बयां करते हुए कहा कि राजद कार्यकर्ताओं का गर्दन काटा गया है। पूर्वी चंपारण को राजद कार्यकर्ताओं ने अपनी मेहनत से सींचा है। आज महागठबंधन के फैसले से राजद कार्यकर्ताओं में काफी निराशा है।

विनोद श्रीवास्तव ने रोते हुए कहा कि वे राजद के सिपाही हैं और अंतिम दम तक रहेंगे। लेकिन मेरे साथ अन्याय हुआ है। उन्होंने कहा कि लालू यादव ने मुझे नेता बनाया है। मैं हमेशा लालू यादव , तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी के साथ रहूंगा। कुल मिलाकर यह स्पष्ट हो गया कि मोतीहारी सीट को लेकर महागठबंधन में सबकुछ ठीकठाक नहीं है।


Find Us on Facebook

Trending News