उपेन्द्र कुशवाहा ने किया मंथन, कहा- हार के बाद ही जीत है....किसान आंदोलन के समर्थन के साथ जारी रहेगा शिक्षा में सुधार कार्यक्रम

उपेन्द्र कुशवाहा ने किया मंथन, कहा- हार के बाद ही जीत है....किसान आंदोलन के समर्थन के साथ जारी रहेगा शिक्षा में सुधार कार्यक्रम

PATNA: बिहार विधानसभा चुनाव के परिणाम के साथ ही नई सरकार का गठन हो गया है। ऐसे में विभिन्न पार्टियां हार की समीक्षा में जुट गई है। इसी कड़ी में रालोसपा ने राजधानी पटना के दीपाली ग्रीन गार्डेन में दो दिवसीय राज्यस्तरीय चुनाव समीक्षा बैठक किया था। बैठक के दूसरे व अंतिम दिन रालोसपा ने अहम बैठक करते हुए समीक्षा के साथ आगे की रणनीति तैयार करने की बात कह रही है। इस अहम बैठक में पार्टी सुप्रीमो उपेंद्र कुशवाहा ने संबोधन किया। 

रालोसपा ने बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन और एनडीए के अलावा एक तीसरा गठबंधन बनकर मैदान में उतरी थी। रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा, बहुजन समाजवादी पार्टी की मायावती, एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी, जनवादी पार्टी सोशलिस्ट के संजय चौहन और सोहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने भी गठबंधन बनाया था। जिसे ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट का नाम दिया गया। एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने पांच सीट पर जीत हासिल की वहीं बसपा ने एक सीट पर विजय का परचम लहराया। रालोसपा को चुनाव में एक भी सीट नहीं मिली। जीत हार की समीक्षा के बीच दो दिनों तक पार्टी की तरफ से खूब मंथन किया गया। लगभग सभी नेताओं ने हार जीत को लेकर अपनी बात कही। रालोसपा सुप्रीमों ने सभी नेताओं को ध्यान से सुना और अपने संबोधन में कहा कि पार्टी का जो एजेंडा है वह आगे भी जारी रहेगा। 


पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शंकर झा आजाद, राष्ट्रीय महासचिव फजल इमाम मल्लिक, अभियान समिति के अध्यक्ष जितेंद्र नाथ, प्रदेश महासचिव राजेश कुशवाहा, गोह प्रत्याशी डॉक्टर रणविजय कुमार, प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता धीरज सिंह कुशवाहा, रेखा गुप्ता, निर्मल कुशवाहा, हिमांशु पटेल, सुभाष कुशवाहा, सुभाष चंद्रवंशी, कार्यकारी अध्यक्ष संतोष कुशवाहा, कार्यकारी अध्यक्ष वीरेंद्र कुशवाहा, राम पुकार सिन्हा, संतोष गोंड, कार्यकारी अध्यक्ष बी के सिंह, विनोद यादव, पप्पू वर्मा, जेपी वर्मा, अंगध कुशवाहा एवम राष्ट्रीय कार्यकारणी और प्रदेश कार्यकारणी, प्रदेश पदाधिकारियों, जिला अध्यक्षों के साथ बैठक हुई। जिसमे चुनाव नतीजे की समीक्षा की गई। किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए शिक्षा सुधार के आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए निर्णय लिया गया। प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता धीरज सिंह कुशवाहा ने पूरी जानकारी दी। 

पटना से कुमार गौतम की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News