जो आत्मनिर्भर भारत में रोड़ा बन रहे हैं उन्हें सबक सिखाने की जरुरत है : प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी

जो आत्मनिर्भर भारत में रोड़ा बन रहे हैं उन्हें सबक सिखाने की जरुरत है : प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी

BETTIAH : प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने आज पश्चिमी चंपारण समेत अन्य क्षेत्रों से मौजूद लोगों को संबोधित किया. बगहा के चौतरवा बहुअरवा फॉर्म में चुनावी सभा का आयोजन किया गया था. उनके साथ सीएम नीतीश कुमार भी मंच पर मौजूद थे. बिहार विधानसभा चुनाव के साथ वाल्मिकीनगर लोकसभा सीट पर उप चुनाव में समर्थन की अपील करने पीएम और सीएम दोनों पहुंचे हैं. इस मौके पर उन्होंने कहा की थारू जनजाति की पीढ़ियों ने बीजेपी को शुरू से दिया है. उन्होंने कहा की इस क्षेत्र में गरीबों के लिए 55 हज़ार से ज्यादा घर दिए जा चुके हैं. 4 लाख बहनों को गैस चूल्हा दिया गया है. 200 करोड़ सबके खाते में दिया गया है. 250 किसानों के खाते में राशि नीतीश कुमार के नेतृत्व में दी जा चुकी है. 

उन्होंने कहा की यह बापू के कर्मों की धरती है. लोक नायक की धरती है. पूज्य बापू ने यहां से स्वच्छ भारत को रास्ता दिखाया था. देश आत्मनिर्भर की दिशां में आगे बढ़ रहा है. जिसमें चंपारण अग्रणी भूमिका निभाने वाला है. यहीं से गांधी जी ने गाँव को स्वावलम्बन  से आगे बढ़ाया. आज फिर चंपारण के लोगों को संकल्प लेना है. जो भी आत्म निर्भर भारत में रोड़ा बन रहे हैं. उन्हें सबक सिखाने की जरूरत है. वहीँ उन्होंने कहा की बिहार की सरकार नीतीश कुमार के नेतृत्व में ख़ास तौर पर जन जातीय क्षेत्र में बहुत काम किए. थारू और उरांव के सम्मान में सरकार लगी है. वाल्मीकि नगर में इको टूरिज्म और पर्यटन के लिए सरकार बेहतर काम कर रही है. जिससे रोजगार के अवसर मिलेंगे. इसके पहले पीएम मोदी का संबोधन भोजपुरी में शुरू हुआ. 


उन्होंने भोजपुरी में लोगों से कहा हाथ जोड़कर राऊआ लॉगिन के प्रणाम. उन्होंने कहा की अटल बिहारी वाजपेई जी की सरकार में नीतीश जी मंत्री थे. जिसमें थारू समाज को जन जातीय दर्ज़ा मिला. प्रधानमन्त्री ने कहा की चंपारण रामायण काल का जीता जागता साक्षी रहा है. जन जातीय समाज ने माता सीता का साथ दिया. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए हमारे आदिवासी साथी इंतजार कर रहे हैं. आज अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण चल रहा है. वैसे लोगों को नहीं भूलना है जो इसमें रोड़ा बन रहे थे. ऐसे लोगों के पास कोई तथ्य और तर्क नहीं है. उन्होंने कहा की भय और भ्रम का माहौल ही इनका काम बच गया है. उन्होंने झूठ फैलाया की एनडीए एसएसटी आरक्षण खत्म कर देगा. लेकिन यहीं एनडीए सरकार ने दस साल के लिए आरक्षण आगे बढ़ाया है. ये वोट बैंक की राजनीति करने वाले भ्रम फैला रहे हैं. हमने सबका ख्याल रखा है. कहीं कोई जातिवाद का बलि नहीं चढ़ा है. हम सबका साथ सबका विश्वास लेकर चल रहे है. जब धारा 370 हटा तो इन्होंने कहां की खून की धारा बहेगी. लेकिन आज जम्मू कश्मीर में कार्य हो रहे है. लोग यहीं आवाज़ उठा रहे हैं कि भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई करें. जब एनआरसी की बात चली तो उन्होनें लोगों को डरा कर आपका विश्वास तोड़कर आपको तोड़ने की कोशिश की. आज जंगल राज़ के लोग बिहार को फिर जंगल राज़ की ओर ले जाना चाहते हैं. एनडीए ने बिहार में एयरपोर्ट, सड़क और अन्य कार्यों को पूरा कर इसे आगे बढ़ाया. एनडीए सरकार में मेडिकल कॉलेज खोले गए, नई सरकार बनने के बाद बिहार में मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज खुलेगा. 


उन्होंने कहा की जंगल राज का वह दिन याद कीजिए. आपने कैसे कैसे दिन देखे थे. सुनते ही रोंगटे खड़े हो जाते थे. क्या बिहार में वह दिन आने देंगें. लोग मेहनत के पैसे से दिन रात पैसे बचाकर नई गाड़ी खरीद कर बाहर निकलते थे. ये लोग खरोच लगा देते थे. किसको अपनी नई गाड़ी को इस प्रकार से करने की आदत होगी. लेकिन उनको डर होता था कि कहीं कोई उनकी गाड़ी लूट न ले. बिहार ने वह दिन देखें हैं जब रंगदारी की शिकायत करने लोग जाते थे तो अर्जी वाले उनके साथ लुटेरों के साथ बैठे दीखते थे. लोग घर नहीं चमकाते थे की घर जितना बड़ा रंगदारी उतनी ही बड़ी ली जाती थी. इस लिए आपको जंगल राज़ से सतर्क रहना है. 

बेतिया से आशीष कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News