रोजगार की मांग को लेकर आइसा ने किया थाली पीटो कार्यक्रम, केंद्र सरकार के खिलाफ लगाए नारे

रोजगार की मांग को लेकर आइसा ने किया थाली पीटो कार्यक्रम, केंद्र सरकार के खिलाफ लगाए नारे

SAMASTPUR : रोजगार की मांग व रेलवे, जहाज, एलआईसी,एचपीसीएल, यूनिवर्सिटी आदि के निजीकरण के खिलाफ आइसा की ओर से देशव्यापी "थाली पीटो कार्यक्रम" चलाया जा रहा है. इसी सिलसिले में शनिवार को आइसा के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने शहर के पटेल मैदान गोलंबर पर थाली पीटकर सरकार विरोधी प्रदर्शन किया. कार्यक्रम में शामिल छात्र "युवा मांगे रोजगार, नहीं तो हर महीने दो दस हजार" "रेलवे  व अन्य कंपनियों का निजीकरण बंद करो" "रेलवे का सरेंडर किए हुए पद वापस लो" "पिछली सभी प्रतियोगिता परीक्षा का प्रक्रिया पूरा कर अविलंब बहाली करना होगा" आदि नारे लगा रहे थे. 

कार्यक्रम की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष लोकेश राज ने किया. वहीं प्रदर्शन को संबोधित करते हुए आईसा प्रदेश उपाध्यक्ष सुनील कुमार ने कहा कि हमारे देश में सरकारी नौकरी की चाहत सिर्फ निम्न व मध्यम वर्गीय परिवार के छात्र रखते हैं. वह इतना कठिन परिश्रम, समय व पैसा का त्याग कर प्रतियोगिता परीक्षा में शामिल होते हैं. लेकिन वर्तमान केंद्र व राज्य की सरकार इन्हें रोजगार से वंचित रखने के लिए परीक्षा रद्द करने से लेकर तमाम तरह के हथकंडे अपनाती है. 

नौकरी की आस में बैठे छात्रों को फॉर्म भरने से लेकर तीन वर्ष में भी पूरी प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाती है. छात्र- नौजवान के भविष्य से खिलवाड़ करने वाली यह सरकार कोराना महामारी के आड़ में रेलवे, एलआईसी, एयर इंडिया आदि कंपनियों को बेच रही है. हम कार्यक्रम के माध्यम से थाली पीट कर मांग करते हैं कि रेलवे व अन्य कंपनियों को बेचने का फैसला तुरंत वापस लो, रेलवे के सरेंडर पदों से सभी विभाग में वैकेंसी निकालो तथा पुराने सभी प्रतियोगिता परीक्षा को पूरा कर सभी को रोजगार दो नहीं तो देश के छात्र- नौजवान जोरदार आंदोलन करेंगे. 

सभा को प्रीती कुमारी, द्रख्शा जवी, आशीष देव, रवि कुमार,अभिषेक कुमार, ब्रज किशोर,  मो.मेराज, धीरज , दीपेश कुमार, मनीष कुमर, रौशन कुमार, अनिल कुमार, सुधांशू कुमार, ऋतिक, सोनू, बलजीत, जयंत कुमार, आइसा जिला प्रभारी सह भाकपा माले नेता सुरेन्द्र प्रसाद सिंह, निजी कोचिंग संघ के पदाधिकारी सह शिक्षाविद प्रो०  अमरजीत कुमार, रतन झा, अमर कुमार आदि ने भी संबोधित किया.

समस्तीपुर से मुकेश कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News