रुबन हॉस्पिटल के बढ़ते कदम : रतन हॉस्पिटल फॉर विमेन एंड चिल्ड्रेन का हुआ उद्घाटन

PATNA :  रविवार को रूबन ग्रुप के नए अवतार रतन महिलाओं और बच्चो का अस्पताल (Ratan Hospital for women & children) का उद्घाटन समारोह मौर्या होटल में आयोजित किया गया. इस कार्यक्रम में विजय चौधरी, अध्यक्ष, बिहार विधान सभा, मंगल पाण्डेय, स्वास्थ्य मंत्री, बिहार सरकार, रामकृपाल यादव, सांसद. पाटलिपुत्र शामिल हुए. अतिथियों ने नये अस्पताल का दौरा भी किया, जो गांधी मैदान के दक्षिण पूर्वी भाग में है. उद्घाटन समारोह में शहर के करीब 200 प्रमुख चिकित्सक उपस्थित थे, जिनमें अधिकांश शिशु और महिला रोग विशेषज्ञ थें. 

कार्यक्रम में रूबन अस्पताल के निदेशक डॉ. सत्यजीत ने अपने गुरू प्रो0 एस0 एन0 आर्या को अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया. सभी अतिथियों और उपस्थित डाक्टरों के बीच रतन शिशु एवं महिला अस्पताल के चिकित्सकों ने अपने-अपने विभाग के विशेषताओं की जानकारी दी. जिसमें डा0 ऋृचा ने महिलाओं के Laparoscopic Surgery की ओर ध्यान आकर्षित किया. डा0 नाजनीन ने बीमारीयों के खतरे के रहते कैसे सुरक्षित प्रसव किया जाए, इसके बारे मे डाक्टरों को जानकारी दी.

 डा0 विजय ने प्रसव के दौरान दर्द रहित बच्चा पैदा करने के तरिके (Painless & High risk delivery) से लोगों को अवगत कराया. इस नए अस्पताल में महिलाओं को व्यायाम (Physiotherapy) के साथ उनके खान-पान (Nutrition) और बच्चा पैदा होने के बाद बच्चे को सही ढ़ंग से देख-भाल(Counselling for well motherhood) का प्रशिक्षण दिया जाएगा. कुछ महिलाएं प्रसव के दौरान और उसके बाद बहुत मानसिक तनाव में होती हैं. उनके लिए यहाँ विशेष इंतजाम किया गया है. इस मौके पर नवजात शिशु विशेषज्ञ डा0 नीता (Neonatologist) ने अपने विभाग शिशु सघन विभाग (NICU) की जानकारी दी. यहाँ आधुनिकतम यंत्रो से कम वजन के साथ पैदा होने वाले बच्चे या बच्चे के जन्म बाद किसी भी बीमारी का इलाज किया जाता है. 

वही डा0 वीरेन्द्र वर्मा ने बड़े बच्चों के गम्भीर (Critical) के लिए सघन चिकित्सा विभाग (PICU) के बारे में जानकारी दी. डा0 रामसागर सिंह ने बच्चों के टीकाकरण और सामुदायिक सम्बन्ध (Community Paediatric service) के बारे में जानकारी दी. अस्पताल के दौरे के बाद बिहार विधानसभा के अध्यक्ष विजय चौधरी ने नए अस्पताल में विशेष सुविधाओं के लिए अस्पताल के प्रबंधक को धन्यवाद  दिया. वही स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने बच्चों और महिलाओं का अस्पताल खोलने के लिए डा0 सत्यजीत को बधाई दी. उन्होंने आशा प्रकट किया कि अस्पताल में महिने के हर 9 तारीख को एक गर्भवती महिला के निःशुल्क जॉंच की व्यवस्था की जाये. रतन शिशु एवं महिला अस्पताल के निदेशक ने सहज ही मान लिया.

वही सांसद रामकृपाल यादव ने अस्पताल के दौरे के बाद डा0 सत्यजीत को बधाई दी. इस मौके पर डा0 सत्यजीत ने उन्हें बताया कि हमलोगों का एक 500 बेड का अस्पताल नर्सिंग कॉलेज के साथ खोलने का पक्का इरादा है. 

                                

Find Us on Facebook

Trending News