रूपए के लालच में नमक का कर्ज भूला, मालिक की ही बेटियों को बंधक बना कर किया लहूलुहान

रूपए के लालच में नमक का कर्ज भूला, मालिक की ही बेटियों को बंधक बना कर किया लहूलुहान

DESK... खबर उत्तरप्रदेश के मेरठ के गंगानगर क्षेत्र के अनुदेव नर्सिंग होम से आ रही है जहां   बुधवार रात कंपाउंडर ने डॉक्टर दंपति की दो बेटियों को पौने घंटे तक बाथरूम में बंधक बनाए रखा। उन्हें चाकू मारकर लहूलुहान कर दिया। आरोपी ने डॉक्टर दंपति से अलमारी में रखे चार लाख रुपयों की डिमांड कर दी. बाद में लोगों ने दरवाजा तोड़कर आरोपी को धर दबोचा. गंगानगर में पंचवटी कॉलोनी के सामने डॉक्टर एसपी सिंह व डॉक्टर ऊषा सिंह अनुदेव नर्सिंग होम का संचालन करते हैं और नर्सिंग होम के तीसरे फ्लोर पर ही उनका घर है. 

उनकी बेटी अनुष्का सिंह (20) मेरठ मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस प्रथम वर्ष की पढ़ाई कर रही है. छोटी बेटी देवयानी सिंह (16) दिल्ली के स्कूल में 11वीं की छात्रा है. बुधवार रात करीब 9 बजे डॉक्टर दंपति छत पर थे। कंपाउंडर तपराज ने तीसरे फ्लोर पर दोनों बेटियों को बाथरूम में बंधक बना लिया। डॉक्टर ऊषा सिंह को फोन कर अलमारी की चाभी कमरे की मेज पर रखकर चले जाने के लिए कहा। अलमारी में रखे चार लाख रुपयों पर कम्पाउंडर की नजर थी। चाभी मेज पर रखकर डॉक्टर दंपति नर्सिंग होम से बाहर निकल गए. तपराज ने उनसे कहा कि वह तीन किलोमीटर दूर गंगासागर कॉलोनी पर जाकर उसे वीडियो कॉल करें, वरना वह दोनों बेटियों का गला काट देगा। डॉक्टर दंपति ने बाहर निकलकर पड़ोसियों को खबर कर दी और खुद दूर चले गए.


 पड़ोसी युवक लाइसेंसी हथियार लेकर अंदर आ गए. उन्होंने पौने घंटे बाद दरवाजा तोड़कर तपराज को पकड़ लिया. हालांकि तब तक वह दोनों बेटियों को चाकू मार चुका था। मौके पर पहुंची गंगानगर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। कम्पाउंडर तपराज हस्तिनापुर में पढ़ला गांव का रहने वाला है. पिछले पांच साल से इस नर्सिंग होम में वह नौकरी कर रहा था। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है. पैसा का लालच इंसान को क्या से क्या बना देता है जिस मालिक ने उसको सब कुछ दिया बाद में उसी की बेटियों को कर दिया लहूलुहान. 




Find Us on Facebook

Trending News