रूपेश मर्डर केसः CM नीतीश का अल्टीमेटम भी हो गया फेल! फरमान के 68 घंटे बाद भी रिजल्ट शून्य, केस भूलाने की तैयारी में अधिकारी

 रूपेश मर्डर केसः CM नीतीश का अल्टीमेटम भी हो गया फेल! फरमान के 68 घंटे बाद भी रिजल्ट शून्य, केस भूलाने की तैयारी में अधिकारी

PATNA: मुख्यमंत्री के फरमान के 65 घंटे बीत गए अब भी रूपेश हत्याकांड में पुलिस के हाथ खाली हैं. मुख्यमंत्री ने हाई प्रोफाईल मर्डर केस के अगले दिन यानी 13 जनवरी की शाम डीजीपी को सख्त लहजे में कहा था कि जल्द से जल्द अपराधियों को गिरफ्तार करें। सीएम नीतीश के फरमान के 65 घंटे से अधिक गुजर गए लेकिन सुशासन की पुलिस अंधेरे में ही तीर चला रही है। किसी के पास रूपेश हत्याकांड की कोई जानकारी नहीं है। क्या रूपेश के हत्यारों को जमीन निगल गई या आसमान खा गया? 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सरकारी आवास से महज 1 किमी दूर मंगलवार शाम इंडिगो के स्टेशन हेड रूपेश सिंह की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। रूपेश की हत्या के बाद पूरे बिहार में कोहराम मच गया था। इसके बाद अगले दिन खुद मुख्यमंत्री सामने आये थे और डीजीपी को हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए अल्टीमेटम दिया था। खबर लिखे जाने तक हत्या के करीब 88 घंटे बीत गए और सीएम के फरमान का भी 68 घंटे से ज्यादा निकल गया, पर पुलिस इस मामले में एक भी गिरफ्तारी नहीं दिखा सकी है. सबसे आश्चर्य की बात तो यह कि पुलिस के पास बताने के लिए कुछ भी नहीं है। नेता प्रतिपक्ष ने तो शुक्रवार को बड़ा आरोप लगाते हुए पूरे मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग कर दी। भाजपा सांसद विवेक ठाकुर ने भी पुलिस को 48 घंटे का मियाद दिया था। उनकी मियाद का समय भी बीत गया लेकिन अब तक पुलिस कुछ नहीं कर सकी है। 

जानिए 13 जनवरी को सीएम नीतीश ने क्या कहा था ....

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घटना पर संज्ञान लेते हुए 13 जनवरी को खुद डीजीपी से बात की थी और इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या से संबंधित अद्यतन जानकारी ली. डीजीपी ने मुख्यमंत्री को बताया था कि इस हत्याकांड के उद्भेदन के लिए एसआईटी गठित कर त्वरित कार्रवाई की जा रही है. मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को सख्त निर्देश देते हुए कहा था कि इस हत्याकांड के अपराधियों की अविलंब गिरफ्तारी करें और स्पीडी ट्रायल कराकर दोषियों को जल्द से जल्द कठोर सजा दिलाएं. मुख्यमंत्री ने डीजीपी को निर्देश दिया कि अपराध की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं करेंगे. पुलिस अपराधियों के खिलाफ पूरी सख्ती से पेश आए. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस हत्याकांड को लेकर वे काफी गंभीर हैं और स्वयं लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं.




Find Us on Facebook

Trending News