रुपेश सिंह मर्डर केस में अब तक नहीं मिला कोई सुराग, अंधेरे में तीर चला रही है बिहार पुलिस

रुपेश सिंह मर्डर केस में अब तक नहीं मिला कोई सुराग, अंधेरे में तीर चला रही है बिहार पुलिस

पटना: पहेली बनकर रह गया है पटना में हुआ इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह हत्याकांड, कभी पुलिस की जांच एयरपोर्ट पार्किंग के विवाद पर टिक रही है तो कभी टेंडर पर, रूपेश की हत्या की सूई बिल्डर के इर्द-गिर्द घूमी तो कभी रूपेश के राजनीतिक कद व अन्य कारणों पर, अभी तक कोई एजेंसी ये पता नहीं लगा पायी है की रुपेश की हत्या का मोटिव क्या था. 

50 से अधिक लोगों को हिरासत में भी लिया गया- इस मामले में पुलिस करीब 300 से अधिक लोगों से पूछताछ कर चुकी है, लेकिन हाथ कुछ नहीं लगा. एसटीएफ, एसआइटी ने आधा दर्जन बाइकरों को भी पकड़ा, उनसे पूछताछ करने में जुटी है. पुलिस की टीम गोवा से लेकर दिल्ली तक छान आयी.

यूपी से लेकर झारखंड के कई जिलों में दबिश बनायी पर नतीजा सिफर ही रहा. दो टीमें फिर दिल्ली और झारखंड गयी हुई हैं. इधर पुलिस की छापेमारी से पटना के छुटभैये अपराधियों में हड़कंप मच गया. पुलिस की गिरफ्तारी और पूछताछ के डर से छोटे मोटे अपराधी ने पटना छोड़ दिया. आखिर किसने की रुपेश की हत्या ये अपने में बड़ा सवाल लिए हुए है दो हफ्ते से ज्यादा का वक्त हो गया है और पुलिस को कोई सुराग नहीं मिलना ये बताता है की किसी शातिर ने इस घटना को इस तरह अंजाम दिलवाया है की पुलिस के लिए भी ये पहेली बनकर रह गई है.  


Find Us on Facebook

Trending News