पुलिस लाइन में उड़ी आदेश की धज्जियां, अधिकारियों की मौजूदगी में देर रात बार-बालाओं का डांस और डीजे का हुआ आयोजन

पुलिस लाइन में उड़ी आदेश की धज्जियां, अधिकारियों की मौजूदगी में देर रात बार-बालाओं का डांस और डीजे का हुआ आयोजन

hajipur. स्व. राजकुमार की फिल्म का एक फेसम डायलॉग है कि जिनके घर शीशे के होते हैं, वो दूसरों के घर पर पत्थर नहीं फेंकते हैं। यह डायलॉग वैशाली पुलिस पर पूरी तरह से फिट बैठती है। एक तरफ जहां पुलिस लोगों को देर रात तक डीजे और बार बालाओं के डांस आयोजित कराने पर जेल की सैर करा देती है, वहीं दूसरी तरफ उनके ही पुलिस लाइन यह सारे आदेश दरकिनार हो जाते हैं।

बीती रात कुछ ऐसा ही देखने को मिला। जहां डीएम के द्वारा डीजे बजाने पर रोक के आदेश के बावजूद पुलिस लाइन में महाशिवरात्रि पर डीजे बजाते नजर आए। साथ ही देर रात तक बार बालाओं का डांस भी आयोजित किया गया। बार बालों को ठूमकों पुलिसवाले देर रात तक झूमते नजर आए। वही सारे नियम कानून की धज्जियां उड़ते देखने के बावजूद भी पुलिस अधिकारियों के मुंह से कोई विरोध के स्वर नजर नहीं आया।  चौंकाने वाली बात यह है कि महाशिवरात्रि पर इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किए गए और उनको आयोजित करने वाले भी वह लोग थे जिन पर इसको रोक लगाने की जिम्मेदारी है।

 इस पूरे कार्यक्रम का वीडियो भी सामने आ गया है जिसमें दिखा जा सकता है कि किस तरह मंच पर बार बालाओं के डांस आयोजित हो रहे हैं अश्लील बातें हो रही हैं और लोग उसका आनंद उठा रहे हैं फिलहाल यह वीडियो हाजीपुर में तेजी से वायरल हो रहा है और लोग इसका खूब चटखारे लेकर आनंद उठा रहे हैं।

एसपी ने दिए जांच के आदेश, कई पुलिसकर्मियों पर गिर सकती है गाज

बार बालाओं के डांस का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस की खराब हुई छवि को जिले के पुलिस कप्तान ने गंभीरता से लिया है। एसपी मनीष ने इस पूरे मामले की जांच के निर्देश दिए हैं और सदर एसडीपीओ राघव दयाल को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है। माना जा रहा है कि मामले में कई पुलिसकर्मियों पर गाज गिर सकती है। एसपी ने साफ किया है कि इसमें जो भी दोषी होंगे, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

नोट- न्यूज4नेशन इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है, यह सिर्फ सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के आधार पर प्रकाशित की गई है।

Find Us on Facebook

Trending News