बिहार के सभी पुलों का होगा सेफ्टी ऑडिट, तैयार होगा हेल्थ कार्ड: नीतीश

बिहार के सभी पुलों का होगा सेफ्टी ऑडिट, तैयार होगा हेल्थ कार्ड: नीतीश

PATNA: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि सूबे के सभी पुलों का सेफ्टी ऑडिट कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे यह पता चलेगा कि पुल के रखरखाव के लिए किस तरह की मरम्मत की जरुरत है।

सीएम नीतीश ने कहा कि इसको लेकर पुल प्रबंधन प्रणाली विकसित की जाएगी। वे शुक्रवार को ज्ञान भवन में वर्कशॉप ऑन मेजर ब्रिजेज इन बिहार: इनोवेशन एंड चैलेंजेज के उदघाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। सीएम ने कहा कि पिलरों की स्थिति जांचने के लिए सभी पुलों का अंडर वॉटर इंस्पेक्शन कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि हरेक पुल का अलग हेल्थ कार्ड तैयार किया जाएगा।

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में होने वाले निर्माण कार्यों के लिए बेहतर तकनीक के इस्तेमाल पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलों रखरखाव और प्रबंधन के लिए इंजीनियरों का प्रशिक्षित कराकर एक डेडिकेटेड विंग बनाया जाएगा।उन्होंने कहा कि किसी भी निर्माण को टिकाऊ बनाने के लिए रखरखाव सबसे जरूरी है। 

 सीएम नीतीश ने कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में होने वाले निर्माण कार्यों में बेहतर तकनीक का प्रयोग की जरूरत है। कोसी पर 5, गंडक पर 5, सोन पर 3 और गंगा पर 12 नए पुलों का निर्माण कराया जा रहा है। पुलों का निर्माण ऐसा हो जिससे नदियों का प्रवाह बाधित नहीं हो। पुलों का मेंटेनेंस प्रोटोकॉल बनाना होगा।

सीएम नीतीश ने कहा कि दानापुर से बिहटा तक 17-18 किलोमीटर एलिवेटेड सड़क का निर्माण कराया जाना है। एनएचएआई ने इसको मंजूरी दे दी है। समारोह को डिप्टी सीएम सुशील मोदी और पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने भी संबोधित किया।

Find Us on Facebook

Trending News