दीघा घाट पर मिली सहरसा एडीएम के बेटे की लाश, पुलिस ने कहा - डूबने से हुई मौत, परिजन बता रहे - की गई हत्या

दीघा घाट पर मिली सहरसा एडीएम के बेटे की लाश, पुलिस ने कहा - डूबने से हुई मौत, परिजन बता रहे - की गई हत्या

PATNA : सहरसा के एडीएम पुरुषोत्तम पासवान के इकलौते बेट दीपक पुरुषोत्तम की अपराधियों ने ईंट-पत्थर से कूचकर हत्या कर दी। यही नहीं हत्या करने के बाद उसकी लाश काे दीघा थाना के दीघा घाट के पास गंगा में फेंक दी। 30 साल के दीपक की लाश बुधवार की देर शाम बरामद की गई। दीपक के सिर से खून निकल रहा था। शरीर में कई जगहों पर जख्‍म के निशान थे। वहीं से दीपक की स्‍कूटी, पर्स व कपड़े भी बरामद किए गए।  शिनाख्‍त होने के बाद पुलिस ने शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया।जहां पुलिस इसे नदी में डूबने से मौत की घटना मान रही है, वहीं पिता ने इसे हत्या करार दिया है। 

दीपक की मौत से आहत स्‍वजनों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उनका कहना था कि पुलिस ने शरीर पर जख्‍म का मुआयना तक नहीं किया। बिना देखे उसे पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने शरीर पर मिले जख्‍म को भी पेपर में नहीं दिखाया। स्‍वजनों का आरोप है कि घटना के पीछे गहरी साजिश है। शव से कपड़े हटाकर इस तरह रखा गया कि आत्‍महत्‍या लगे। लेकिन स्‍पष्‍ट दिख रहा है कि हत्‍या कर शव को गंगा में फेंक दिया गया है। दीपक के पिता ने बताया कि उन्‍हें बेटे के मोबाइल से ही सूचना दी गई थी। परिजनों ने इस मामले में मेडिकल बोर्ड गठित करने की मांग की है।

एक दिन पहले निकला था घर से

बताया गया कि दीपक का घर बुद्धा कॉलोनी थाना क्षेत्र के जगत अपार्टमेंट में है।दीपक ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की थी। वे मुंबई में नौकरी करते थे। लाकडाउन में घर आ गए थे। माता-पिता की इकलौती संतान दीपक की शादी हो चुकी थी। उनकी दो बेटियां हैं। बताया गया कि मंगलवार को दिन में दीपक स्‍कूटी लेकर घर से निकले थे। लेकिन शाम तक लौटे नहीं। उन्‍होंने कहा था कि दीघा घाट जा रहे हैं। जिसके बाद उसकी मौत की खबर सामने आई


Find Us on Facebook

Trending News