साहिबगंज-मनिहारी के बीच गंगा नदी पर पुल निर्माण शुरू, लोगों में दशकों पुरानी मांग पूरी होने पर दिख रही है खुशी

साहिबगंज-मनिहारी के बीच गंगा नदी पर पुल निर्माण शुरू, लोगों में दशकों पुरानी मांग पूरी होने पर दिख रही है खुशी

KATIHAR. 19 सौ करोड़ से बिहार-झारखंड की बहुप्रतीक्षित गंगा नदी पर पुल सह सड़क चौड़ीकरण और विस्तार को लेकर दो राज्य के लोगों में खुशी का लहर है, झारखंड के साहिबगंज से शुरू होकर बिहार के कटिहार जिला के मनिहारी गंगा नदी को पार करते हुए यह पुल न सिर्फ दोनों राज्यों को जोड़ रहा है बल्कि आसाम और बंगाल की दूरी भी बेहद कम समय में तय करने के लिए अपनी उपयोगिता साबित करने वाली है। पुल के निर्माण काम अब शुरू हो गया है।

साढ़े आठ किमी लंबा पुल

कटिहार जिला के मनिहारी गंगा तट के ग्राउंड जीरो पर साइट मैनेजर ने इस खास पुल को लेकर पूरी जानकारी देते हुए बताया कि प्रोजेक्ट में अब शुरुआती दौर का काम शुरू किया गया है। ये पुल चार साल में यानी 2024 तक पूरा हो जाएगा। उन्होंने बताया कि ये पुल चार साल में यानी 2024 तक पूरा करने का लक्ष्य है। साइट मैनजर ने बताया कि लगभग 23 किमी लंबे मार्ग में साढ़े आठ किमी पर पुल का निर्माण किया जाएगा। जिनमें साढ़े छह किमी हिस्सा नदी पर बनेगा. वहीं 13 किमी उसकी एप्रोच रोड होगी। साइट मैनेजर ने बताया कि सब कुछ सही रहा तो इसे तय समय से पहले पूरा कर लिया जाएगा।

खत्म हो जाएगी दूरी

 साल 2020 के अंत में शुरू हुआ यह काम अब कटिहार जिले के जमीन पर भी दिखने लगा है जिसे लेकर इलाके के लोगों में भी खासा उत्साह है, काम करवाने वाले कंपनी के स्पॉट मैनेजर जहां तमाम विषय पर पूरी जानकारी दे रहे हैं, वहीं स्थानीय लोग भी उम्मीदों की इस सेतु बांधने  से अपनी खुशी जाहिर कर रहे हैं। स्थानीय लोग कहते हैं कि यह दो राज्य के लोगों के लिए भावनात्मक जुड़ाव के एक सेतु के साथ साथ कई विषय के लिए अति महत्वपूर्ण है और अब जमीन पर इसका काम होता देख बेहद खुशी हो रहा है। उनका कहना है दोनों राज्यों के बीच कई सालों से पुल बनवाने की मांग हो रही थी, लेकिन अब तक सिर्फ आश्वासन मिलता रहा है. 


Find Us on Facebook

Trending News