बीजेपी में मची खलबली, स्टार प्रचारक शाहनवाज हुसैन पाए गए कोरोना पॉजिटिव

बीजेपी में मची खलबली, स्टार प्रचारक शाहनवाज हुसैन पाए गए कोरोना पॉजिटिव

PATNA कोरोना में हो रहे बिहार विधानसभा चुनाव में एक और बड़ी खबर सामने आई है. जहां एक तरफ एक्चुअल रैली ने जोड़ पकड़ लिया था.वही बीजेपी के स्टार प्रचारक शाहनवाज हुसैन कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं.भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और बिहार विधानसभा चुनाव के स्टार प्रचारक शाहनवाज हुसैन ने ट्वीट करते हुए यह जानकारी दी है। पहले उन्होंने लिखा है कि मैं एम्स के ट्रामा वार्ड में भर्ती हूं। चिंता की बात नहीं है मैं ठीक हूं। 

इसके कुछ ही देर बात उन्होंने ट्वीट किया कि बीते दिनों मैं कुछ ऐसे लोगों के संपर्क में आया था जो कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। मैंने खुद भी आज जांच कराया जिसमें मैं Covid 19 पॉजिटिव पाया गया हूं। उन्होंने लिखा है कि- बीते दिनों मेरे संपर्क में आए उन सभी लोगों से निवेदन करता हूं कि कृपया वे सरकार की गाइडलाइन के अनुसार खुद की कोरोना जांच करवाएं।इस घटना से बिहार बीजेपी में खलबली मच गई है। शाहनवाज के ट्वीट के बाद प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे, राजीव प्रताप रूडी और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी भी क्वारंटाइन हो गए हैं। आंशंका जताई जा रही है संभवत: कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

इसके बाद चुनाव आयोग उठा सकता है सख्त कदम

चुनाव आयोग ने बिहार में चुनाव प्रचार के दौरान सामजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन किए जाने और इससे संबंधित दिशा-निर्देशों की अवहेलना को गंभीरता से लिया है। नेताओं द्वारा बिना मास्क पहने जनसभाओं को संबोधित करने के वीडियो वायरल हुए हैं। सभी मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर की पार्टियों के अध्यक्षों और महासचिवों को जारी परामर्श में आयोग ने कहा है कि संबद्ध उम्मीदवारों एवं इस तरह के उल्लंघनों के लिए जिम्मेदार आयोजकों के खिलाफ मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) तथा जिला प्रशासन को दंडनीय कार्यवाही करनी चाहिए। आयोग ने कहा कि दिशा-निर्देशों के अनुपालन के लिए अलग-अलग निर्देश सीईओ और चुनावी राज्यों की सरकारों को जारी किया जा रहा है।

आयोग के दिशा-निर्देशों का हो रहा उल्लंघन 

आयोग ने कहा कि उसके संज्ञान में इस तरह की जनसभाओं के घटनाए आए हैं, जिनमें सामाजिक दूरी के नियमों का उल्लंघन करते हुए भारी भीड़ जमा थी और नेता तथा चुनाव प्रचारक बगैर मास्क पहने भीड़ को संबोधित कर रहे थे। ऐसा आयोग के दिशा-निर्देशों अवहेलना करते हुए किया गया। आयोग ने कहा कि ऐसा करके राजनीतिक दल खुद को तथा रैलियों और सभाओं में एकत्रित जनसमूह को कोरोना संक्रमण के खतरे में डाल रहे हैं। आयोग ने यह जिक्र किया है कि निर्वाचन प्रक्रिया में सबसे अहम हितधारक होने के नाते पार्टियां चुनाव कराने के लिए आयोग द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करने के प्रति कर्तव्यबद्ध हैं। आयोग ने अगस्त में जारी दिशा-निर्देशों का जिक्र करते हुए चेतावनी दी, 'चुनाव प्रचार के दौरान निर्देशों का पालन नहीं किए जाने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 के प्रावधानों के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा भारतीय दंड संहिता के प्रावधानों और अन्य कानूनी प्रावधानों के तहत भी कार्रवाई की जाएगी।  


Find Us on Facebook

Trending News