समस्तीपुर में बाढ़ राहत शिविर का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लिया जायजा, अधिकारियों को दिए कई निर्देश

समस्तीपुर में बाढ़ राहत शिविर का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लिया जायजा, अधिकारियों को दिए कई निर्देश

PATNA : बिहार के 26 जिलों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है. जहाँ कई इलाके पूरी तरह जलमग्न है. सरकारी राहत के बावजूद लोगों को कहीं आने जाने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. वहीँ गंगा नदी के किनारे बसे 12 जिलों में स्थिति और अधिक दयनीय है. इसी कड़ी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर राहत कार्यों का जायजा ले रहे हैं. 

आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बाढ़ प्रभावित इलाकों के हवाई सर्वेक्षण के पश्चात मोहिउद्दीन नगर, समस्तीपुर में टाउन हॉल आपदा राहत केंद्र, जे.टी.ए. कॉलेज मोहिउद्दीन नगर आपदा राहत केंद्र और आईटीआई मोहिउद्दीन नगर पशु राहत शिविर का निरीक्षण किया. उन्होंने लोगों से मिलकर बातचीत की. साथ ही राहत कार्य को सुचारू रूप से चलाने के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिया. 

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा की तीन दिन पहले ही हमने यहां आने का निर्णय लिया था. यह जगह भी बाढ़ से पूरी तरह प्रभावित है. उन्होंने फिर कहा की सरकार के खजाने पर सबसे पहला अधिकार आपदा पीड़ितों का है. इसके मद्दनेजर उनके लिए काम किया जा रहा है. 

वहीँ उन्होंने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा की बाढ़ में पहले कहाँ कुछ होता था. बाढ़ के बारे में लोग जानते भी नहीं थे. इसके लिए कोई नियम भी नहीं बना था. सबकुछ हमलोगों ने 2007 से किया है.

समस्तीपुर से संजीव तरुण की रिपोर्ट  



Find Us on Facebook

Trending News