विप में नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी ने लगाया आरोप, कहा राईस मिलरों को बर्बाद करने पर तुली है नीतीश सरकार

विप में नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी ने लगाया आरोप, कहा राईस मिलरों को बर्बाद करने पर तुली है नीतीश सरकार

PATNA : इन दिनों नीतीश-तेजस्वी सरकार के गड़बड़ फैसलों पर नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी लगातार हमलावर हैं। बिहार विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष सम्राट चौधरी ने जनसंवाद के दौरान पत्रकारों से कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने सबसे पहले राज्य के नौनिहालों के साथ धोखा किया। बाद में शिक्षकों के साथ ज्यादती की। अब राज्य के राईस मिलरों को बर्बाद करने पर तुले हैं। 


चौधरी ने कहा कि नीतीश कुमार को न जाने बिहार की जनता से कौन सी ऐसी दुश्मनी है जिस कारण सुपर सीएम के आदेश पर उन्होंने बिहार की जनता को उनके हाल पर छोड़ दिया। उन्होंने कहा कि सबसे पहले मुख्यमंत्री ने राज्य में सरकारी स्कूल के शिक्षकों को किचन और बाकी चीजों का सुपरवाईजर बनाकर पढ़ाई लिखाई को बर्बाद किया। शिक्षकों को उचित सम्मान न देकर उनके साथ बेमानी की। उनका हक छिना और अब राज्य के किसान की हकमारी कर रहे हैं जो हमारे लिए चावल तैयार करते हैं, जिसे हम ग्रहण कर जिंदा रहते हैं, अब उन्हें ही बर्बाद करने पर तुले हैं। 

चौधरी ने कहा कि मैं मुख्यमंत्री जी से कहना चाहता हूं कि कम से कम लोगों के मूल अधिकार उनके खाने पीने की चीजों पर तो पाबंदी मत लगाओ। जिससे हम सभी जिंदा हैं, जिससे हमारे किसान भाईयों के घर की दाल रोटी चल रही है। सम्राट चौधरी ने कहा कि नीतीश सरकार ने राज्य में अरवा चावल के मिलों पर ताला लगाने का जो निर्णय लिया है वो जनहित में नहीं है। राज्य में पैक्सों के पास 437 चावल मिल हैं। 

उन्होंने कहा की एक मिल बनाने में 56.45 लाख की लागत है। सरकार कहती है कि सभी जिलों में उसना चावल की मिले लगाई जाएंगी ? सरकार का ये कैसा फैसला है? कैसी नीति है? नीतीश सरकार अरवा उसना के नाम पर बड़ा घोटाला करना चाह रही है।

Find Us on Facebook

Trending News