महागठबंधन के राजभवन मार्च पर बरसे संजय जायसवाल, राजद और वामदलों को बता दिया हत्यारों- नक्सलियों का समर्थक !

महागठबंधन के राजभवन मार्च पर बरसे संजय जायसवाल, राजद और वामदलों को बता दिया हत्यारों- नक्सलियों का समर्थक !

पटना. राजद और वाम दलों के अग्निपथ के विरोध में राजभवन मार्च करने पर भाजपा ने तंज कसा है. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल ने दोनों दलों को आड़े हाथों लेते हुए बिना उनका नाम लिए परोक्ष रूप से उन्हें हत्यारों को जेल से भगाने वाली और चीन परस्त करार दिया है. साथ ही बिना लालू यादव का नाम लिए उन पर भी नौकरी के नाम पर जमीन हड़पने वाला नेता बताया है. 

संजय जयसवाल ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में लिखा- जहानाबाद में पुलिस की निगरानी में जेल तोड़कर हत्यारों को आजाद करने वाली सरकार एवं जेल तोड़ने वाले और भागने वाले हत्यारों के तीमारदार, दोनों गले में गले मिलकर राजभवन मार्च कर रहे हैं. दरअसल, कुछ दशक पूर्व जहानाबाद में जेल पर हमला कर कुछ दुर्दांत हत्या आरोपियों को भगाया गया. जेल पर हमला करने का आरोप नक्सली संगठनो पर लगा. चुकी नक्सली संगठनों का उदय वाम आंदोलनों से हुआ है इसलिए संजय जायसवाल ने वाम दलों पर इशारों में जेल ब्रेक कांड को समर्थन करने वाला बताया है. 

जायसवाल ने अग्निपथ पर मचे बवाल पर भी विपक्ष को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा, अगर इनका (राजद और वामदल) और कांग्रेस का बस चले तो यह सेना की औसत उम्र वर्तमान 32 साल से बढा़कर 52 साल करवा देंगे जिससे इनके चीन में रहने वाले आका की चांदी हो जाए और यह सब फिर से लोकतंत्र भूलकर वही हत्या को अंजाम देने वाले संगठन में वापस लौट जाएं. दरअसल चीन में वामदलों की सरकार है इसलिए जायसवाल ने वामदलों को चीन का समर्थक बताते हुए सेना की औसत आयु को बढ़ाने से सेना के कमजोर होने की और इशारा किया है. 

साथ ही लालू यादव को भी संजय जायसवाल ने लपेटा है. उन्होंने लिखा, वैसे इस बात का अफसोस तो जरूर होता होगा कि अगर रेल मंत्री के बदले रक्षा मंत्री होते तो 30 के बजाए कम से कम 30 हजार लोगों की जमीन अपने नाम गिफ्ट करा लिए होते. गौरतलब है कि लालू यादव पर रेल मंत्री रहते हुए नौकरी के नाम पर लोगों की जमीन हड़पने का आरोप है. 


Find Us on Facebook

Trending News