थाने में बंदी ने लगा ली फांसी, तीन माह की बेटी के हत्या के आरोप में हुआ था गिरफ्तार

थाने में बंदी ने लगा ली फांसी, तीन माह की बेटी के हत्या के आरोप में हुआ था गिरफ्तार

छपरा। जिले के अवतार नगर थाने के हाजत में एक बंदी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। जिसके बाद जिले के पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। खुद डीआईजी मनु महाराज इसकी जानकारी मिलते ही सारण क्षेत्र के डीआइजी मनु महाराज एवं पुलिस कप्तान संतोष कुमार अवतार नगर थाने पहुंचकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।बताया गया कि उक्त बंदी को अपनी तीन माह की बेटी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। मृतक का नाम शैलेश पांडेय (35साल) मौजमपुर बताया गया है।

जानकारी के मुताबिक मौजमपुर गांव निवासी शैलेश पांडेय नशे की हालत में सोमवार को अपनी पत्नी के साथ मारपीट की थी। इसी बीच नशे की हालत में ही उसने अपनी तीन माह की बच्ची को पीट दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। इस मामले में अवतार नगर थाने की पुलिस ने मंगलवार को शैलेश पांडेय को गिरफ्तार कर लिया और थाने लाकर हाजत में बंद कर दिया। 

कंबल को बनाया फांसी का फंदा

बताया जाता है कि ठंड के मौसम को देखते हुए उसके पास ओढ़ने के लिए कंबल था। शैलेश पांडे ने देर शाम में कंबल से हाजत में फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। माना जा रहा है कि शराब का नशा उतरने के बाद तीन माह की बेटी की हत्या को लेकर हुई ग्लानि ने उसे ऐसा कदम उठाने के लिए मजबूर किया।

पुलिस ने शुरू की जांच

इस बात की जानकारी होते हुए पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और आनन-फानन में अधिकारी अवतार नगर पहुंचे। इस संबंध में पुलिस कप्तान संतोष कुमार ने बताया कि हाजत में फांसी लगाकर बंद कैदी ने कैसे जान दी है? इसकी बारीकी से जांच की जा रही है। पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है। घटना के जो भी दोषी होंगे उनपर सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

मामले को लेकर गंभीर है डीआईजी मनु महाराज

वहीं इस संबंध में डीआइजी मनु महाराज ने बताया कि हाजत में फांसी लगाकर जान देने की घटना बहुत बड़ी है। पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है। हाजत के पास प्रहरी की ड्यूटी थी या नहीं? अगर ड्यूटी थी तो प्रहरी कहां था? इसकी जांच की जा रही है। इस मामले में जो भी पदाधिकारी व पुलिस कर्मी दोषी पाए जाएंगे उनके विरूद्ध सख्त विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News