सासाराम की रैली में पीएम मोदी ने उठाया कश्मीर से लेकर किसान तक का मुद्दा, कांग्रेस पर साधा निशाना

सासाराम की रैली में पीएम मोदी ने उठाया कश्मीर से लेकर किसान तक का मुद्दा, कांग्रेस पर साधा निशाना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार चुनाव के मद्देनजर सासाराम में एक रैली को संबोधित किया. इस दौरान पीएम ने विपक्ष द्वारा आर्टिकल 370 हाल ही में पास किए गए तीन कृषि विधेयकों को लेकर लगाए जा रहे आरोपों पर भी रैली में बोला. साथ ही उन्होंने अप्रत्यक्ष तौर पर बिना लोजपा या चिराग पासवान का नाम लिए स्पष्ट कर दिया कि सरकार जदयू और बीजेपी की ही बनेगी.

कश्मीर के मुद्दे पर विपक्षी दलों खासतौर से कांग्रेस द्वारा उसे हटाए जाने की मांग को लेकर पीएम ने कहा कि 'जम्मू कश्मीर से आर्टिकल-370 हटने का इंतजार देश बरसों से कर रहा था या नहीं. ये फैसला हमने लिया, एनडीए की सरकार ने लिया. लेकिन आज ये लोग इस फैसले को पलटने की बात कर रहे हैं. ये कह रहे हैं कि सत्ता में आए तो आर्टिकल-370 फिर लागू कर देंगे.'मोदी ने कहा कि 'इन लोगों को आपकी जरूरतों से कभी सरोकार नहीं रहा. इनका ध्यान रहा है अपने स्वार्थों पर, अपनी तिजौरी पर. मैं बिहार की भूमि से इन लोगों को एक बात स्पष्ट कहना चहता हूं- ये लोग जिसकी चाहे मदद ले लें, देश अपने फैसलों से पीछे नहीं हटेगा. भारत अपने फैसलों से पीछे नहीं हटेगा.'

कृषि बिल के विरोध पर क्या बोले पीएम मोदी

बीते दिनों मानसून सत्र में पास किए तीन किसान बिलों पर मोदी ने कहा कि 'देश जहां संकट का समाधान करते हुए आगे बढ़ रहा है, ये लोग देश के हर संकल्प के सामने रोड़ा बनकर खड़े हैं.देश ने किसानों को बिचौलियों और दलालों से मुक्ति दिलाने का फैसला लिया तो ये बिचौलियों और दलालों के पक्ष में खुलकर मैदान में हैं.'पीएम ने कहा कि 'मंडी और MSP तो बहाना है, असल में दलालों और बिचौलियों को बचाना है. लोकसभा चुनाव से पहले जब किसानों के बैंक खाते में सीधे पैसे देने का काम शुरु हुआ था, तब इन्होंने कैसा भ्रम फैलाया था. जब राफेल विमानों को खरीदा गया, तब भी ये बिचौलियों और दलालों की भाषा बोल रहे थे.'मोदी ने कहा कि 'जब-जब, बिचौलियों और दलालों पर चोट की जाती है, तब-तब ये तिलमिला जाते हैं, बौखला जाते हैं. आज हालत ये हो गई है कि ये लोग भारत को कमजोर करने की साजिश रच रहे लोगों का साथ देने से भी नहीं हिचकिचाते.'



Find Us on Facebook

Trending News