देश की पहली शिक्षिका सावित्री फुले की जयंती कर किया नमन, 150 साल पहले महिलाओं के लिए उठाई थी आवाज

देश की पहली शिक्षिका सावित्री फुले की जयंती कर किया नमन, 150 साल पहले महिलाओं के लिए उठाई थी आवाज

गया। देश की पहली शिक्षिका  सावित्रीबाई फुले की जयंती पर देश भर में उन्हें  याद किया गया। आज से 150 वर्ष पूर्व  समाज में हो रहे महिलाओं के उत्पीड़न के खिलाफ उन्होंने न सिर्फ आवाज बुलंद किया था वरन् विभिन्न संस्थाओं का भी शुरुआत किया था। जिससे महिलाएं समाज की अग्रिम पंक्ति मे खड़ी रह सके । आज उनकी 189वी जयंती पर गया में उनके कामों को याद करते हुए ऐपवा की जिला सचिव रीता बरनवाल जी ने कहा न सिर्फ हमें इस मौके पर फुले-फातिमा को याद करना है बल्कि उनके द्वारा स्थापित आदर्शो का अनुसरण भी करना है तथा देश दुनिया को भी जागरूक करना है। 

ऐकटु के राज्य महासचिव श्यामलाल प्रसाद जी ने मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि जो सरकार बेटी पढाओ-बेटी बचाओ के नारे के साथ आई थी वो बेटी पर हो रहे बर्बरता पर चुप्पी साधे बैठी है । साथ ही साथ समाज मे लगातार महिलाओं पर हो रहे शोसन , बलात्कार के खिलाफ एक बड़ी जनांदोलन करने की बात हुई। धन्यवाद ज्ञपित करते हुए रेखा देवी ने सबो से आग्रह किया कि किसानों के इस मुश्किल घड़ी में उनके साथ दें। तथा मोदी सरकार तीनों काले कानूनों को निरस्त करे।कार्यक्रम में बरती चौधरी, आशा देवी ,पूनम, पिंकी के साथ दर्जनों लोग ने भाग लिया।

Find Us on Facebook

Trending News