प्राइवेट स्कूल संचालकों ने सरकार को दी चेतावनी, कहा अब करेंगे सत्याग्रह नहीं तो जल्द खोले स्कूल

प्राइवेट स्कूल संचालकों ने सरकार को दी चेतावनी, कहा अब करेंगे सत्याग्रह नहीं तो जल्द खोले स्कूल

NAWADA : कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर दुनिया के कई देशों में लॉक डाउन की घोषणा की गयी थी. धीरे धीरे अनलॉक की प्रक्रिया अपनाई जा रही है. आज भी रेल, स्कूल और शैक्षणिक गतिविधियाँ बंद हैं. खासकर कोरोना संक्रमण की वजह से स्कूल संचालकों की स्थिति काफी दयनीय हो गयी है. इस मामले को लेकर नवादा जिले में प्राइवेट स्कूल संचालकों ने आज कैंडल मार्च निकाला और केंद्र सरकार व बिहार सरकार के फैसले का  जमकर विरोध किया. 

शिक्षक विजय कुमार, प्रमोद कुमार, पंकज कुमार, अनिल कुमार आदि ने कहा कि केंद्र सरकार व राज्य सरकार की मनमानी इतनी बढ़ गई है कि अब शिक्षकों पर ही अत्याचार शुरू कर दिया है. चुनाव के वक्त सरकार को कोरोना वायरस नजर नहीं आ रहा था. आज पूरा बाजार, मॉल खुल चुका है. लेकिन केवल स्कूल को बंद रखा गया है. प्राइवेट स्कूल संचालकों ने सरकार से मांग किया की जल्द से जल्द स्कूल को खोला जाए नहीं तो सत्याग्रह आंदोलन चलाया जाएगा. 9 तारीख के सत्याग्रह आंदोलन किया जाएगा. 

पहले दिन नवादा के समाहरणालय के समीप सभी शिक्षक धरना देंगे. इसके साथ ही आगे का कार्यक्रम भी जारी किया जाएगा. शिक्षकों ने यहां तक कह दिया कि अगर सरकार हमारी मांग पूरी नहीं करती है तो आमरण अनशन भी कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि शिक्षकों की स्थिति इतनी बदतर होती जा रही है कि वह दो जून की रोटी के लिए भी इधर उधर भटक रहे हैं. बिजली बिल और मकान किराया से लेकर अन्य कई तरह की समस्या से परेशान हो रहे हैं. 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट 



Find Us on Facebook

Trending News