नगालैंड में नागरिकों पर सुरक्षाबलों ने की फायरिंग, 13 ने गंवाई जान, भड़के ग्रामीणों से अमित शाह कर रहे शांति की अपील

नगालैंड में नागरिकों पर सुरक्षाबलों ने की फायरिंग, 13 ने गंवाई जान, भड़के ग्रामीणों से अमित शाह कर रहे शांति की अपील

नई दिल्ली. पूर्वोत्तर राज्य नगालैंड में शनिवार शाम फायरिंग की एक घटना में करीब 13 नागरिकों की मौत हो गई. नागरिकों पर फायरिंग करने का आरोप सुरक्षाबलों पर लगा है. कहा जा रहा है कि सुरक्षाबलों ने उग्रवादी समझकर फायरिंग की लेकिन गोलियों के शिकार बने लोग आम नागरिक थे. जान गंवाने वाले सभी लोग खदान श्रमिक थे. 

फायरिंग की यह हैरतअंगेज घटना नगालैंड के मोन जिले के ओटिंग की है. वहीं घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने सुरक्षाबलों की गाड़ियों में आग लगा दी. हालांकि किसी भी अधिकारी की ओर से घटना में सुरक्षाबलों की संलिप्तता पर कुछ नहीं कहा जा रहा है. वहीं पूरे नगालैंड में इस फायरिंग के विरोध में अब नागरिकों का गुस्सा देखा जा रहा है. जगह जगह लोग इसके विरोध में सड़क पर उतरे हैं और वे सोशल मीडिया पर विरोध प्रदर्शनों की तस्वीर पोस्ट कर रहे हैं.  कहा जा रहा है कि मरने वालों की संख्या एक दर्जन के पार पहुंच गई है. 

स्थानीय सूत्रों के अनुसार मारे गए सभी एक मिनी ट्रक में सवार होकर अपने घर वापस लौट रहे थे. इसी दौरान सुरक्षाबलों ने उनकी गाड़ी को उग्रवादियों की गाड़ी समझ ली और फायरिंग कर दी. कहा जा रहा है कि शनिवार शाम करीब चार बजे घटना हुई. जब लोग देर शाम तक घर वापस नहीं लौटे तब ग्रामीणों ने उन्हें ढूँढना शुरू किया. इसी दौरान उन लोगों के शव मिले जिसके बाद गुस्साए ग्रामीणों ने गाड़ियों में आग लगा दी. 

वहीं नगालैंड के मुख्यमंत्रीनेफियो रियो ने ट्वीट कर मोन के ओटिंग में नागरिकों की हत्या को दुर्भाग्यपूर्ण घटना कहा है. उन्होंने कहा, यह अत्यंत निंदनीय है. मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता है. घटना की जांच उच्च स्तरीय एसआईटी करेगी और देश के कानून के अनुसार न्याय दिलाएगी, मैं सभी वर्गों से शांति की अपील करता हूँ. 

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट कर कहा कि नगालैंड के ओटिंग की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. मैं इससे काफी  व्यथित हूं. घटना में जिन लोगों ने जान गंवाई है, उनके परिवारों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूँ. एसआईटी इस घटना की गहन जांच करेगी ताकि पीड़ित परिवारों को न्याय सुनिश्चित किया जा सके. 

Find Us on Facebook

Trending News