कोहली विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक- सहवाग

कोहली विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक- सहवाग

N4N DESK: इन दिनों भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली की तुलना क्रिकेट जगत के भगवान सचिन तेंदुलकर से की जा रही है. शायद तुलना इसलिए भी किया जा रहा है की जिस तरह सचिन तेंदुलकर अपने बल्ले से रनों और शतकों का पहाड़ खड़ा किया ठीक उसी प्रकार कोहली भी अपने बल्ले से रनों और शतकों का पहाड़ खड़ा करने में लगे हुए है. कोहली ने मास्टर बलास्टर के कुछ रिकॉर्ड को तो ध्वस्त भी कर चुके है. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने अपने शब्दों में इशारा भी किया है कि कोहली उस रिकॉर्ड को तोड़ना चाहेंगे जो कभी सचिन तेंदुलकर ने रनों के पहाड़ को खड़ा किया था.

सहवाग ने एक इंटरव्यू में कहा की विराट समेत दुनिया का हर खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 100 शतक जमाना चाहता है, जो सचिन ने स्थापित किया है. कोहली भी ऐसा करने का प्रयास करना चाहेंगे. आपको बता दें कि सचिन के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट जगत में 100 शतक लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है, जिसमें 51 शतक टेस्ट क्रिकेट और 49 शतक एकदिवसीय में शामिल हैं. वहीं विराट कोहली के शतकों पर नजर डाले तो 58 शतक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपने नाम कर चुके हैं, जिसमें 35 शतक एकदिवसीय में और 23 शतक टेस्ट क्रिकेट में शामिल हैं.

कोहली की सचिन से तुलना पर सहवाग की प्रतिक्रिया

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कोहली की तुलना सचिन से होने पर अपनी प्रतिक्रिया देते कहा कि मुझे नहीं लगता कि कोहली की तुलना सचिन तेंदुलकर से करने का यह सही समय है. तुलना ही करना है तो उस समय करें जब कोहली तेंदुलकर द्वारा बनाए गए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के 200 टेस्ट में 30,000 से अधिक रन कई रिकॉर्ड को तोड़ेंगे. सहवाग ने यह भी स्वीकार किया कि अभी के क्रिकेट जगत में कोहली विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक है.

सहवाग ने यह भी कहा कि कोहली नए रिकॉर्ड स्थापित कर सकते हैं क्योंकि उनमें प्रतिभा है और इन कीर्तिमानों को हासिल करने के लिए जो जरूरत होती है, उसमें वह भूख है. यह आपको तभी स्पष्ट हो जाएगा जब आप उसे मैच की तैयारी करते समय देखेंगे. वह हर मैच में बड़ा ध्यान लगाकर और पूरी तैयारी के साथ खेलते हैं.

शास्त्री के बयान पर सहवाग की सहमति

कुछ दिनों पहले कोच रवि शास्त्री ने कहा था कि कोहली का वर्क एथिक और मैच की तैयारी का तरीका सचिन तेंदुलकर के समान है. सहवाग ने इस बयान पर सहमति जताते हुए कहा था कि एक खिलाड़ी महान तभी बनता है जब वह प्रत्येक मैच की तैयारी अच्छे से करता हो. आज के समय में क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में कोहली से बेहतर बल्लेबाज कोई दूसरा नहीं है. वह विश्व के क्रिकेटरों के लिए एक आदर्श बन चुके हैं. अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों से जब मैं आईपीएल में बात करता हूं तो वह कोहली और उनके सफल होने के तरीके के बारे में पूछते हैं.

Find Us on Facebook

Trending News