दो दिन में दो दुष्कर्म व एक नाबालिक लड़की हत्या की घटना से क्षेत्र में सनसनी,36 घंटा बाद भी एसआईटी टीम का हाथ खाली

दो दिन में दो दुष्कर्म व एक नाबालिक लड़की हत्या की घटना से क्षेत्र में सनसनी,36 घंटा बाद भी एसआईटी टीम का हाथ खाली

MOTIHARI : मोतिहारी जिला के संग्रामपुर थाना क्षेत्र में दो दिनों में हुई दो नाबालिक से सामूहिक दुष्कर्म व हत्या की घटना से सनसनी है। वहीं दोनों घटना में थाना पुलिस की सूचना के बाद भी कार्रवाई में आनाकानी चर्चा का विषय बना हुआ है। दूसरी तरफ दिव्यांग नाबालिक लड़की से शराब के नशे पिलाकर सामूहिक दुष्कर्म मामले में एसपी के निर्देश पर बनी एसआईटी टीम की 36 घंटा बाद भी हाथ खाली है।

गूंगी लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को पुलिस सुलझाने में ही जुटी थी कि रविवार दोपहर को पशु की चारा लाने घर से निकली नाबालिक लड़की का सोमवार दोपहर गल्ला काटकर हत्या कर गढ़ा में फेंका शव मिलने से सनसनी फैल गई। शव की स्थिति व शरीर के वस्त्र की स्थिति देख पुलिस व आमलोग प्रथम दृष्टया रेप के बाद हत्या कि चर्चा करते रहे। वहीं मृतक लड़की के पिता ने गांव के ही चार लोगों शराब बिक्री का विरोध करने पर उसकी लड़की के साथ दुष्कर्म कर निर्मम हत्या करने का आरोप लगाया है।

पुलिस डॉग स्कॉयड की टीम व वैज्ञानिक तरीके से कांड की खुलसा में जुटी है। लेकिन क्षेत्र में चर्चा है कि आखिर दिव्यांग बच्ची के सामूहिक दुष्कर्म की घटना के आवेदन थाना लेकर पीड़िता के जाने के बाद महिला थाना जाने की बात कह संग्रामपुर थाना पुलिस क्यो अपना पल्ला झाड़ 24 घंटा कान में तेल डाल सोई रही । जब इसकी भनक अरेराज डीएसपी व सर्किल इंस्पेक्टर को लगी तब आनन फानन में पीड़ित लड़की को मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल भेज पुलिस कार्रवाई में जुटी ।


वही पँचभिड़वा वाली घटना में मृतिका लड़की के पिता के बात पर विश्वास किया जाय तो रविवार दोपहर से गायब लड़की का सोमवार सुबह आवेदन देने संग्रामपुर थाना पहुचा तो सरपंच व पंच का हस्त्राक्षर कराकर लाने को कहकर उसे वापस कर दिया गया ।वही दोपहर में गायब लड़की के शव बरामद होने पर संग्रामपुर पुलिस करवाई में जुटी ।दोनों घटना में त्वरित करवाई नही करने में संग्रामपुर थाना पुलिस की भूमिका कटघरे में है ?

मोतिहारी के संग्रामपुर थाना क्षेत्र में  महज एक किलोमीटर के अंदर एक दिसम्बर की रात्रि में एक गरीब विधवा महिला की गूंगी नाबालिक बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना घटित हुई। बच्ची दिनभर बेहोश रही । गांव में दो दिन पंचायती भी होती रही 

दिव्यांग बच्ची की सामूहिक रेप के मामले में आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए एसपी द्वारा एसआईटी टीम का गठन किया गया है ।एसआईटी टीम ने आरोपी युवक के अरेराज स्थित संबंधी सहित कई ठिकानों पर गिरफ्तारी के लिए छापेमरी की है ।पुलिस सूत्रों की माने तो पुलिस के हाथ अभी भी खाली है।पुलिस दोनों आरोपियों के खिलाफ कुर्की की करवाई की प्रक्रिया में जुटी है ।

Find Us on Facebook

Trending News