कॉल गर्ल बनाकर अपनी पत्नी को भेजता था कस्टमर के पास, वाट्सएप ग्रुप में रोज डालता था नई नई 'वैसी' लड़कियों की तस्वीर

कॉल गर्ल बनाकर अपनी पत्नी को भेजता था कस्टमर के पास, वाट्सएप ग्रुप में रोज डालता था नई नई 'वैसी' लड़कियों की तस्वीर

DESK : पैसों की चाह में इंसान किस हद तक रिश्तों की मर्यादा को ताक पर रख देता है. इसकी बानगी आपको यह खबर पढ़कर समझ में जाएगी. पुलिस ने एक बड़े सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया लेकिन पुलिस उस वक्त चौंक गई जब पता चला कि सेक्स रैकेट चलाने वाला अपनी पत्नी को भी कस्मटर के पास उन्हें खुश करने के लिए भेजता था.

पूरा मामला यूपी के कानपुर का है. जहां पुलिस ने सेक्स रैकेट ऑपरेटर, उसकी सास और एक युवती को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इसके लिए खुद ग्राहक बनकर पहुंची और पूरे रैकेट का भंडाफोड़ कर दिया. यहीं नहीं छानबीन में पता चला है कि सेक्स रैकेट ऑपरेटर अपनी पत्नी को भी ग्राहकों के पास भेजता था.

पुलिस के मुताबिक, चकेरी थाना स्थित शिवकरटरा रोड पर ये धंधा तीन साल से चल रहा था. पुलिस ने जाल बिछाकर एक सिपाही को ग्राहक बनाकर कॉल करवाया. इसके बाद रैकेट ऑपरेटर ने कई लड़कियों की तस्वीरें वॉट्सऐप पर भेजीं. पुलिस ने तुरंत छापेमारी कर मौके पर दो लड़कियों और संचालक को पकड़ लिया. 

पुलिस ने छानबीन में पाया कि सेक्स रैकेट ऑपरेटर दीपक सिंह कोलकाता का रहने वाला है. दीपक ने दूसरे समुदाय की युवती पूजा सिंह उर्फ फरजाना खातून से शादी की थी. वह अपनी सास सरवरी बेगम और पत्नी फरजाना के साथ शिवकटरा रोड पर रहता था. पुलिस के मुताबिक, इस धंधे के लिए आरोपी पश्चिम बंगाल, झारखंड और ओडिशा से लड़कियों को बुलाता था. पुलिस को ट्विटर पर एक शख्स ने शिकायत की थी. जिसके बाद एडीजी ने तुरंत मामले को लेकर कार्रवाई करने के आदेश दिए थे. छानबीन में सामने आया कि आरोपी एक वॉट्सऐप ग्रुप के जरिए ये गिरोह चलाता था. उसने वॉट्सऐप ग्रुप में अपने पुराने ग्राहकों को जोड़ कर रखा था. नए ग्राहकों से वह वॉट्सऐप कॉलिंग से बात करके डील करता था.

Find Us on Facebook

Trending News