शमी जल्द हो सकते हैं गिरफ्तार,अदालत ने जारी किया गिरफ़्तारी वारंट

शमी जल्द हो सकते हैं गिरफ्तार,अदालत ने जारी किया गिरफ़्तारी वारंट

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के लिए सोमवार का दिन मुसीबत लेकर आया है, शमी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ है, पश्चिम बंगाल की अलीपुर की अदालत ने मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां द्वारा दायर किए गए घरेलू हिंसा के मामले में गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. मोहम्मद शमी और उनके भाई हासिद अहमद को अदालत ने 15 दिन के भीतर सरेंडर करने को कहा है. दरअसल, शमी के खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज है। 


सोमवार को पूरे देश में जहां 'गणेश चतुर्थी' पर खुशी का माहौल था, वहीं शाम को क्रिकेट की दुनिया की सबसे बड़ी खबर ने सभी को चौंका दिया। टीम इंडिया की गेंदबाजी के प्रमुख अस्त्र समझे जाने वाले मोहम्मद शमी का अदालत ने गिरफ़्तारी वारंट जारी कर दिया है। यह गिरफ्तारी वारंट उनकी पत्नी हसीन जहां के साथ घरेलू हिंसा के मद्देनजर अदालत ने जारी किया है। हसीन जहां की मोहम्मद शमी से यह दूसरी शादी है और दोनों की एक बेटी भी है। हसीन राजनीति के अखाड़े में कूद पड़ी हैं।


आपको बतादे की  मोहम्मद शमी और हसीन जहां की शादी 6 जून 2014 को हुई थी । शादी के पहले हसीन मॉडल थीं और फिर बाद में कोलकाता नाइट राइडर्स की चीयर लीडर बन गई। हसीन जहां ने पहली शादी पश्चिम बंगाल के बीरभूम में स्टेशनरी की दुकान चलाने वाले सैफुद्दीन नामक शख्स से 2002 में की थी। जब सैफुद्दीन 10वीं कक्षा में पढ़ते थे, तभी से हसीन से प्यार करते थे। सैफुद्दीन और हसीन जहां 8 साल साथ-साथ रहे और फिर 2010 में तलाक हो गया। । इस दौरान हसीन जहां 2 बेटियों की मां बन चुकी थी।आईपीएल मैच के दौरान जब शमी ने हसीन जहां को देखा तो वे अपना दिल दे बैठे।  इसके बाद  शमी ने हसीन से शादी कर ली। असल में हसीन तलाकशुदा है, यह बात शमी को पता ही नहीं थी। 


पिछले साल कोलकाता पुलिस ने हसीन जहां की शिकायत के बाद शमी पर आईपीसी की सात धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था.  हसीन जहां ने शमी और उनके भाई के खिलाफ केस दर्ज करवाया था. शमी के खिलाफ आईपीसी की धारा 498 ए (दहेज उत्पीड़न) और धारा 354 (यौन उत्पीड़न) के तहत मामला दर्ज है, जबकि उनके भाई हासिद अहमद पर धारा 354 (यौन उत्पीड़न) के तहत मामला दर्ज है।हसीन जहां ने अपने पति और क्रिकेटर मोहम्मद शमी पर शारीरिक शोषण करने और उन्हें धोखा देने का आरोप लगाया था. उसके बाद हसीन जहां ने शमी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. हसीन जहां के इन गंभीर आरोपों के बाद BCCI ने उनका सालाना करार रद्द कर दिया था. हालांकि, बाद में बोर्ड ने उन्हें क्लीन चिट दे दिया। 





Find Us on Facebook

Trending News