शनिदेव को खुश करने पेईंग वार्ड में पंडित को बुलाकर शनिदेव की पूजा की, तेजस्वी को खिलाया प्रसाद और फिर कर दिया ये काम....

शनिदेव को खुश करने पेईंग वार्ड में पंडित को बुलाकर शनिदेव की पूजा की, तेजस्वी को खिलाया प्रसाद और फिर कर दिया ये काम....

डेस्क... रांची के रिम्स पेईंग वार्ड में भर्ती लाल प्रसाद दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में सजा काट रहे हैं। इस दौरान उनकी तबियत भी खराब रही है, लेकिन उनसे जुड़ा इन दिनों सबसे अधिक  फोन पर बातचीत करने का मामला छाया हुआ है। इसकी सुनवाई भी पिछले दिनों कोर्ट में हुई, जहां राज्य सरकार के पास कोई जवाब नहीं देने पर सुनवाई 8 जनवरी तक के लिए टाल दिया गया है। फिलहाल जो परिस्थिति बनी हुई है, उसमें चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद को हाई कोर्ट की ओर से राहत नहीं मिल रही है। 

सुनवाई की हर तारीख पर सिर्फ तारीख ही मिल रही है। नतीजतन, अब राजद प्रमुख शनिदेव की शरण में पहुंच चुके हैं। शनिवार की सुबह उठने के बाद उन्होंने हर दिन की भांति समय से स्नान ध्यान किया। इसके बाद मेडिकल चौक बरियातू स्थित दुर्गा मंदिर के पुजारी अरुण पंडित को बुलाकर पेइंग वार्ड में पुर्जा अर्चना की। करीब एक घंटे तक वार्ड में उन्होंने सुख समृद्धि, बेटे को मुख्यमंत्री बनने और परिवार की सारी पीड़ा दूर करने की शनिदेव से कामना की। हाई कोर्ट से भी राहत मिलने की मिन्नत की। 

सूत्र बताते हैं कि उन्होंने पत्नी राबड़ी देवी के कहने पर शनिदेव की पूजा की। पिछले कुछ महीनों से शनिदेव नाराज चल रहे हैं। यही कारण लग रहा है कि उनकी बेल पर सुनवाई को अगली तारीख मिलती जा रही है। पूजा के बाद संभावना जताई जा रही है कि शनिदेव खुश होंगे और उनकी कृपा लालू प्रसाद पर बरसेगी। इधर, पूजा के बाद माथे में तिलक लगाकर वे घंटों धूप में बैठे रहे। तेजस्वी यादव को भी उन्होंने प्रसाद खिलाया। 


ऑडियो वायरल होने के बाद भी नही चेते, फिर दिखे लालू फोन से बात करते

लालू प्रसाद ने बीते 24 नवंबर को रिम्स निदेशक बंगले से अपने सेवक इरफान अंसारी के मोबाइल से बिहार में भाजपा विधायक से फोन पर बात की थी। फोन पर उन्होंने सरकार गिराने और भाजपा विधायक को मंत्री बनाने का वादा किया था। हालांकि फोन से बात करने के बाद उनका ऑडियो तेजी से वायरल हुआ। बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने ट्वीट कर ऑडियो वायरल किया था। इसपर हाई कोर्ट ने भी संज्ञान लिया था कि आखिर लालू प्रसाद तक मोबाइल कैसे पहुंचा। इधर, शनिवार को उन्होंने फिर दिखा दिया कि वे लालू प्रसाद हैं। वे एक बार फिर मोबाइल पर बात करते नजर आए। अब एक बार फिर सवाल उठता है कि लगातार निरीक्षण के बाद भी पेइंग वार्ड में जेल मैनुअल का किस तरह उल्लंघन हो रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News