सुपौल : युवक का शव मिलने से फैली सनसनी, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

सुपौल : युवक का शव मिलने से फैली सनसनी, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

SUPAUL : जिले के त्रिवेणीगंज अनुमंडल क्षेत्र के जदिया थाना अन्तर्गत कोरियापपटी पुर्व वार्ड नम्बर 2 राजगांव निवासी मोहम्मद कामील के 22 वर्षीय पुत्र मोहम्मद रेहान उर्फ टिपु का शव मिलने से परिवार वाले में काफी आक्रोश देखा गया. परिजनों ने शव को रोड पर रख कर पांच घंटों तक रोड जाम किया. इस मौके पर परिजनों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी भी किया. मृतक के पिता का आरोप है की गांव का अबजीत कुमार शुक्रवार को जदिया बजार ले जाने बहाने मेरे बेटा को ले गया. एक दिन बाद मेरे पुत्र की वायरल तस्वीर से मुझे जानकारी मिली कि मेरे पुत्र की हत्या कर दी गयी है. उसके बाद पता चला कि अररिया जिले के नरपतगंज थाना के मिरदोल गांव में शव बरामद हुआ है. गला दबाकर उसकी हत्या की गई है. जबकि मृतक की शादी 13 जनवरी 2021 को पटना में होने वाली थी. मृतक के माता पिता का रो रो का बुरा हाल है. वे न्याय की भीख मांग रहे थे. मिली जानकरी के अनुसार रेहान काफी गरीब परिवार से आते थे. वहीँ कमा कर परिवारलों का भरण पोषण करते थे. 

पड़ोस के मोहम्मद सुल्तान पर हत्या कराने का लगा आरोप

मृतक के भाई राजा ने बताया कि बीते 3 महीना पूर्व पड़ोस के मोहम्मद सुल्तान की बेटी शादी की नियत से उसके चचेरे भाई के साथ भाग गई थी. उस मामले में सुल्तान ने ग्यारह लोगों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज कराया था. जिसमें रेहान का नाम भी शामिल था. परिजनों का सीधा आरोप है कि सुल्तान एवं उनके भाई समेत अन्य लोगों ने सुनियोजित साजिश के तहत रेहान की हत्या कर शव को नरपतगंज क्षेत्र में फेंक दिया. इधर शव मिलने पर आक्रोशित लोगों ने जदिया से छातापुर वाली रोड राजगांव के समीप 5 घंटे तक जाम कर दिया. 

जाम की खबर सुनते ही स्थानीय थाना प्रभारी पंकज कुमार ने जाम स्थल पर पहुंचकर जाम हटाने का पहल किया. लेकिन मृतक के परिजन नहीं माने. जानकारी के मुताबिक नरपतगंज के पुलिस द्वारा शव को पोस्टमार्टम हेतु अररिया भेजा गया था. ग्रामीण शव के घर आने का इंतजार कर रहे थे. मामले में जदिया थाना अध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि परिजनों का आरोप है कि गांव के अभिजीत कुमार पर हत्या करने का आरोप लगाया है. आगे की कार्रवाई की जा रही है. जाम नहीं हटने का खबर अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को मिली. इसके बाद उन्होंने अपने स्तर से मृतक परिवार के लोगों को समझा बुझा कर हर संभव न्याय दिलाने का भरोसा दिया. तब जाकर लोगों ने जाम हटाया. 

सुपौल से पप्पू आलम की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News