शेखपुरा में टाल क्षेत्र के दर्जनों गाँव बाढ़ की चपेट में, जुगाड़ का नाव बना लोगों के आवागमन का सहारा

शेखपुरा में टाल क्षेत्र के दर्जनों गाँव बाढ़ की चपेट में, जुगाड़ का नाव बना लोगों के आवागमन का सहारा

SHEKHPURA : पटना से भागलपुर तक गंगा के बढ़ते जलस्तर का असर गंगा की सहायक नदी पर भी देखने को मिल रहा है। जिले में हरुहर नदी का जलस्तर बढ़ने से शेखपुरा के टाल क्षेत्र के दर्जनों गांव बाढ़ के पानी की चपेट में आ गए है। घाटकुसुम्भा प्रखंड मुख्यालय में भी पानी का जलस्तर बढ़ जाने के कारण बाढ़ का पानी अब घर में प्रवेश कर रहा है। जिसके कारण लोग अपने आशियाना छोड़ ऊंचे स्थान पर जाने को मजबूर है। 

घाटकुसुम्भा प्रखंड के बटोरा, सुजावलपुर,गदवादिया, अकरपुर ,कोयला मुर वरिया जबकि पानापुर पंचायत के सभी गांव पानी में घिर गया है। वहीँ बाढ़ की वजह से फसलों को भी काफी नुकसान हुआ है। इस इलाके में अभी तक राहत और बचाव कार्य नहीं चलाए जा रहे हैं। जिसके कारण लोगों को और परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सबसे अधिक परेशानी मवेशी पालकों को है। 

यहां के लोग अभी भी सरकारी राहत का इन्तजार कर रहे हैं। हालाँकि कोई सहायता नहीं मिलने की वजह से लोग जुगाड़ के सहारे नाव बनाकर कहीं आ जा रहे हैं। लोगों का आरोप है की बाढ़ से हजारों लोग प्रभावित है, लेकिन सरकार की तरफ से अभी तक कोई मदद नहीं की जा रही है। 

शेखपुरा से दीपक कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News