शिक्षा मंत्री के जवाब पर तेजस्वी का हमला, कहा - अब सरकार ने भी मान लिया बिहार की स्कूली शिक्षा बद्तर

शिक्षा मंत्री के जवाब पर तेजस्वी का हमला, कहा - अब सरकार ने भी मान लिया बिहार की स्कूली शिक्षा बद्तर

पटना। विधानसभा में मंगलवार को प्रश्नोतर काल में सबसे पहले शिक्षा विभाग से जुड़े सवाल किए गए। जिस पर शिक्षा मंत्री ने जवाब देते हुए कहा कि सदन में बजट के दौरान 21.94  शिक्षा पर खर्च करने की घोषणा की गई है। जो सभी बजट मे सबसे अधिक है। उन्होने बताया कि नीति आयोग की रिपोर्ट में बिहार का स्कोर 35 फीसदी के आसपास है। फिर भी राज्य में छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उबलब्ध कराई जाएगी। सभी पंचायतों में माध्यमिक और उच्च विद्यालय की स्थापना की गई है। 

शिक्षा मंत्री ने कहा शिक्षकों की नियुक्ती के लिए हाईकोर्ट से अनुमति मांगी गई है। वहीं गणित और अंग्रेंजी की पढ़ाई के लिए 4050 अतिथि शिक्षकों की सेवाएं लेने की तैयारी है। इसके अलावा सभी माध्यमिक और उच्च विद्यालयों में उन्नयन एप से स्मार्ट क्लास कराई जा रही है।  

वहीं तेजस्वी यादव ने नीति आयोग की रिपोर्ट का आधार बनाते हुए कहा कि बिहार में स्कूली शिक्षा बद से बदतर है। बिहार अंतिम राज्यों में शामिल है। उन्होंने कहा कि बिहार में ड्रॉप आउट सबसे अधिक बिहार में है। उन्होंने कहा कि स्कूलों में शिक्षक नहीं होने को लेकर क्या कार्रवाई की जा रही है। 

शिक्षा मंत्री ने भी तेजस्वी की बातों का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि जो बात वह पूछ रहे थे हमने उनकी बात को लेकर अब क्या कदम उठा रहे हैं उसके लिए हम योजना बना रहे हैं। 

Find Us on Facebook

Trending News