टीवी इंडस्ट्री को लगा झटका : नहीं रही बालिका वधू की दादीसा, 75 साल की सुरेखा सिकरी का निधन

टीवी इंडस्ट्री को लगा झटका : नहीं रही बालिका वधू की दादीसा, 75 साल की सुरेखा सिकरी का निधन

MUMBAI : टीवी इंडस्ट्री के चर्चित धारावाहिकों में शामिल बालिका वधू की दादी सा के रूप में पहचान बनाने वाली अदाकारा सुरेखा सिकरी का 75 साल की उम्र में निधन हो गया है। शुक्रवार को दिल का दौरा पड़ने की वजह से उनका निधन हो गया. सुरेखा का अलविदा कह जाना फिल्म-टीवी इंडस्ट्री के लिए बड़ा नुकसान है। सुरेखा सिकरी के निधन पर टीवी और फिल्म इंडस्ट्री के कलाकारों ने उन्हें श्रद्धांजली दी है।

बताया गया कि 75 साल की सुरेखा सिकरी लंबे वक्त से बीमार चल रही थीं. 2020 में सुरेखा सीकरी को दूसरी बार ब्रेन स्ट्रोक आया था. तभी से उनकी तबीयत खराब चल रही थी. 2018 में सुरेखा सीकरी को पैरालाइटिक स्ट्रोक आया था. तभी से उनकी तबीयत खराब चल रही थी. 2018 में सुरेखा सीकरी को पैरालाइटिक स्ट्रोक आया था.

तीन नेशनल अवार्ड से हो चुकी थी सम्मानित

सुरेखा सीकरी ने साल 1978 में पॉलिटिकल ड्रामा फिल्म किस्सा कुर्सी का से सुरेखा ने एक्टिंग डेब्यू किया था. अपने 53 साल के करियर में उन्होंने थियेटर, फिल्मों और टीवी में काफी काम किया था.  सुरेखा को तीन बार बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का नेशनल अवॉर्ड मिला था. उन्हें ये सम्मान फिल्म तमस (1988), मम्मो (1995) और बधाई हो (2018) के लिए मिला था. नेशनल अवॉर्ड के अलावासुरेखा ने 1 फिल्मफेयर अवॉर्ड, 1 स्क्रीन अवॉर्ड और 6 इंडियन टेलीविजन अकेडमी अवॉर्ड्स जीते थे.

बालिका वधू ने दी देश में पहचान

सुरेखा सीकरी ने अपने लंबे करियर में यूं तो कई दमदार रोल्स किए थे. लेकिन एक रोल जिसनेउन्हें घर घर में पॉपुलर बनाया वो था बालिका वधू में किया गया कल्याणी देवी का रोल। इस धारावाहिक में दादीसा की भूमिका ने उन्हें देश में पहचान मिली।

टीवी धारावाहिक के साथ फिल्मों में भी रहीं व्यस्त

सुरेखा ने हिंदी के अलावा मलायलम फिल्मों में भी काम किया था.सुरेखा के पॉपुलर शोज में परदेश में है मेरा दिल, महाकुंभ: एक रहस्य, एक कहानी, सात फेरे: सलोनी का सफर, केसर, बनेगी अपनी बात, कभी कभी, जस्ट मोहब्बत शामिल हैं. सुरेखा सरफरोश, नसीम, नजर, सरदारी बेगम, दिल्लगी, जुबैदा, रेनकोट, शीर कोरमा, घोस्ट स्टोरीज, देव डी जैसी फिल्मों में नजर आई थीं. इन फिल्मों में सबसे ज्यादा चर्चा उन्हें   2018 में आई फिल्म बधाई हो के लिए मिली, फिल्म में उन्होंने दुर्गा देवी कौशिक का रोल प्ले किया था. इस रोल में भी सुरेखा ने लोगों का दिल जीता था. इस रोल के लिए सुरेखा को नेशनल अवॉर्ड मिला था

NSD पासआउट थीं सुरेखा सीकरी
 सुरेखा का जन्म उत्तर प्रदेश में हुआ था. 1971 में सुरेखा ने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से ग्रेजुएशन की थी. 1989 में सुरेखा ने संगीत नाटक अकेडमीअवॉर्ड जीता था. सुरेखा के पिता एयरफोर्स में और माता टीचर थीं. सुरेखा ने हेमंत रेगे से शादी की थी. इस शादी के उनके एक बेटा है जिसका नाम राहुल सीकरीहै.सुरेखा के पति हेमंत का 20 अक्टूबर 2009 में हार्ट फेल होने की वजह से निधन हुआ था.


Find Us on Facebook

Trending News