पीएम मोदी की तारीफदारी पर कांग्रेस दो फाड़, सिब्बल और तिवारी ने अपने ही नेताओं पर किया कटाक्ष

पीएम मोदी की तारीफदारी पर कांग्रेस दो फाड़, सिब्बल और तिवारी ने अपने ही नेताओं पर किया कटाक्ष

NEWS4NATION DESK : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर कांग्रेस के अंदर घमासान शुरु हो गया है। मोदी की तारीफदारी को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा आपस में ही एक-दूसरे कटाक्ष और तंज कसने का सिलसिला शुरु हो गया है। 

पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने पीएम मोदी की तारीफ की और उसके बाद उनका समर्थन अभिषेक मनु सिंघवी व शशि थरुर ने किया। इन नेताओं द्वारा मोदी की तारीदारी किये जाने के बाद कांग्रेस के दो वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल और मनीष तिवारी अपने ही नेताओ पर जमकर कटाक्ष किया है। 

कपिल सिब्बल  अपनी पार्टी के नेताओं नेताओं पर इशारों-इशारों में कटाक्ष करते हुए कहा कि भाजपा के किस नेता ने प्रधानमंत्री को विपक्ष के नेताओं को गलत ढंग से पेश करने से रोका है।  सिब्बल ने ट्वीट किया, 'भाजपा का कौन सा नेता खड़ा हुआ और सार्वजनिक तौर पर प्रधानमंत्री एवं उनकी पार्टी को सलाह दी कि वे विपक्ष और उसके नेताओं को खलनायक की तरह पेश करना बंद करें?' 

वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की इन टिप्पणियों के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा कि इस बारे में बयान देने वाले नेताओं से ही सवाल किया जाए। उन्होंने कहा कि मैं आप सभी से (मीडिया) ये आग्रह करना चाहता हूं कि उनके बयान पर अगर आपको कोई प्रतिक्रिया चाहिए तो वह प्रतिक्रिया उनसे ले लीजिए। जहां तक कांग्रेस पार्टी का सवाल है, तो उसका ये मानना है कि इस समय देश में एक बहुत विकृत और एक बहुत जटिल आर्थिक संकट के दौर में है। 

बता दें कि एक कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व केन्द्रीय मंत्रीजयराम रमेशने पीएम मोदी की जमकर सरहाना की थी। उन्होंने अपनी ही पार्टी के नेताओं को एक बड़ी सलाह दी थी। जयरान ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शासन का मॉडल 'पूरी तरह नकारात्मक गाथा' नहीं है और उनके काम के महत्व को स्वीकार नहीं करना और हर समय उन्हें खलनायक की तरह पेश करके कुछ हासिल नहीं होने वाला है। 

वहीं जयराम रमेश के बयान के समर्थन में शुक्रवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी और शशि थरूर भी आ गए। सिंघवी ने कहा कि काम का मूल्यांकन व्यक्ति नहीं, मुद्दों के आधार पर होना चाहिए। मोदी को खलनायक की तरह पेश करना गलत है, ऐसा करके विपक्ष एक तरह से उनकी मदद करता है। 

वहीं थरूर ने कहा कि मैं पिछले छह साल से कह रहा हूं कि मोदी जब भी कुछ अच्छा कहते हैं या सही चीज करते हैं तो उनकी तारीफ करनी चाहिए।

Find Us on Facebook

Trending News