भागलपुर में बहन के प्रेमी ने ही ले ली भाई की जान, पुलिस ने आरोपी सहित पांच को किया गिरफ्तार

भागलपुर में बहन के प्रेमी ने ही ले ली भाई की जान, पुलिस ने आरोपी सहित पांच को किया गिरफ्तार

BHAGALPUR : जिले के बरारी थाना क्षेत्र में जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल के क्वार्टर के पूरब सुर्खिर्कल झोपड़पट्टी में झाड़ियों में एक युवक की अज्ञात अपराधियों द्वारा धारदार हथियार से मारकर हत्या कर दी गई थी। जिसके संबंध में बरारी थाना में यह केस दर्ज किया गया था। कांड के उद्भेदन एवं अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम द्वारा पुलिस अधीक्षक नगर भागलपुर एवं सहायक पुलिस अधीक्षक नगर भागलपुर के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया। गठित टीम के द्वारा कांड का त्वरित गति से सफल उद्बोधन किया गया। 


अज्ञात मृतक की पहचान उसके परिजनों के द्वारा तुर्की कल का रहने वाला पंकज  तांती का  19 वर्षीय पुत्र समीर कुमार उर्फ  ईलू के रूप में हुई। परिजनों द्वारा बताए अनुसार एवं अनुसंधान के क्रम में आए तथ्य के आधार पर पाया गया कि मृतक की बहन की शादी एक जून को किसी और व्यक्ति से हो रही थी। उसी दिन मंडप से मृतक की बहन को कटहल वाड़ी का रहने वाला जितेंद्र राम का बेटा सौरभ हरी द्वारा भगा लिया गया था। मृतक की बहन अभी तक सौरभ हरी के साथ प्रेम प्रसंग में थी, जिसका विरोध मृतक हमेशा करता था। 

पूर्व में मृतक समीर और सौरभ दोनों दोस्त थे। समीर अपनी बहन को समझाता था और कभी कभार मारपीट भी करता था, जो बातें बहन अपने प्रेमी सौरभ हरी को बता देती थी। जिस कारण सौरभ हरि समीर और पीलू का दुश्मन हो गया था। भागलपुर में मां काली प्रतिमा विसर्जन शोभा यात्रा के दिन अभियुक्त सौरभ हरी ने सुबह से ही योजना बना ली थी कि भीड़भाड़ का फायदा उठाकर उसकी हत्या कर दी जाए। 27 अक्टूबर और 28 अक्टूबर के मध्य रात्रि को काली प्रतिमा विसर्जन के समय भी सौरभ हरी से  विवाद कर लिया था।

सौरभ हरी अपने साथियों के साथ मिलकर मृतक समीर को विसर्जन घाट से ले जाकर सुर्खिर्कल झोपड़पट्टी के झाड़ियों में समीर की हत्या धारदार हथियार से कर दिया। जिसके बाद पुलिस टीम के द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए अनुसंधान एवं तकनीकी सहयोग द्वारा इस कांड के प्राथमिकी अभियुक्त सौरभ हरि को गिरफ्तार कर लिया गया। उसने अपने अपराध को भी स्वीकार किया। उसके अन्य चार साथियों को भी गिरफ्तार किया गया है। सभी ने अपनी संलिप्तता स्वीकार की है। सौरभ हरि के निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त एक धारदार तलवार विशाल दास उर्फ डमरु के घर से बरामद किया गया। इस घटना में संलिप्त अन्य अपराधी सागर कुमार उर्फ चिंटू घटना के दूसरे दिन धनकुंड थाना में शराब के साथ पकड़े जाने पर बांका जिला के न्यायिक हिरासत में बंद है। 

गिरफ्तार अपराधियों में कटहलबाड़ी का रहने वाला सौरभ कुमार, बड़ी खंजरपुर का रहने वाला विशाल कुमार उर्फ डमरु, इसाक शक्कर का रहने वाला गणेश हरि और विक्रमशिला कॉलोनी तिलकामांझी का रहने वाला समीर लालूचक भट्टा इशक्चक का रहने वाला अभिषेक कुमार शामिल है।

भागलपुर से बालमुकुन्द की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News