1 लाख में 15 मजदूरों को सीतामढ़ी में बेचा, बंधक बनाकर जबरन कराई जा रही थी मजदूरी

1 लाख में 15 मजदूरों को सीतामढ़ी में बेचा, बंधक बनाकर जबरन कराई जा रही थी मजदूरी

SITAMADHI: बिहार के सीतामढ़ी में छत्तीसगढ़ के 15 मजदूरों को बंधक बनाए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. मामले का उद्भेदन तब हुआ जब बंधक बनी एक महिला दबंगों को चकमा देकर थाना पहुंच गई. महिला ने थाना पहुंचकर पुलिसवालों को वर्तमान स्थिति से अवगत कराया.

घटना जिले के पुपरी थाना क्षेत्र के भिट्ठा गांव की है. सभी मजदूर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिला के पचपेड़ी थाना अन्तर्गत सोंलाहजहां गावं के हैं. इन मजदूरों को चार महीने से भिट्ठा का अजय चौधरी जबरन बंधक बनाकर अपने इट भट्टा में काम करवा रहा था. इसके एवज में मजदूरों को एक रुपया भी नहीं दिया जाता था.  वहीं विरोध करने पर दो लोगों को शराब के झूठे मुक़दमे में फंसाकर जेल भिजवा दिया गया. अपने साथियों के साथ हुए इस तरह के व्यवहार की जानकारी देते हुए रामशिला देवी ने बताया की उनलोगों को छत्तीसगढ़ में उनके गांव के दलाल अशोक यादव द्वारा 9 हजार वेतन का लालच देकर सीतामढ़ी में बेच दिया गया था.

महिला ने बताया की मजदूरों को डरा धमकाकर बिना मजदूरी दिए इट भट्ठे पर काम लिया जाता था. ईंट भट्ठे के मालिक और मुंशी का कहना था की काम करने पर भी पैसा नहीं देंगे. हमारे पास जब तुम्हारा एक लाख रुपए जमा हो जाएगा तो तुम्हारे साथी को मैं जेल से छुड़वा दूंगा. इस घटना की सूचना किसी प्रकार स्थानीय थाने को मिली तो थाने के अधिकारी ने त्वरित कार्यवाई करते हुए सभी बंधुआ मजदूरों को लेकर थाना लाया गया है. खबर लिखे जाने तक भट्ठे के मालिक के खिलाफ क्या कार्रवाई हुई इस मामले पुलिस ने कोई जानकारी नहीं दी है



Find Us on Facebook

Trending News